जासं, राजगढ़ (मीरजापुर) : क्षेत्र के खोराडीह ग्राम पंचायत में राशन वितरण को लेकर ग्राम प्रधान और कोटेदार के परिजनों के बीच नोकझोंक हो गई। इस दौरान माहौल गहमागहमी का रहा एवं शारीरिक दूरी की धज्जियां उड़ती दिखी। ग्रामीणों ने राशन न मिलने की शिकायत ग्राम प्रधान रामेश्वर सिंह से की तो ग्राम प्रधान कोटेदार के यहां पहुंचकर राशन न मिलने के बाबत जानकारी लेनी चाही। कोटेदार का पुत्र ग्राम प्रधान को सार्वजनिक रूप से अपमानित किया और आरोप लगाया कि ग्राम प्रधान ने मनमानी तरीके से राशन की मांग की थी। नहीं दिए जाने पर उसके खिलाफ षड्यंत्र रचा जा रहा है। वही ग्राम प्रधान रामेश्वर सिंह ने कहा कि ग्रामीणों ने शिकायत की थी कि दो-तीन महीने से मशीन से पर्ची निकलवा कर राशन नहीं दिया जा रहा है। एक तरफ सरकार कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए राशन वितरण कर ग्रामीणों को सहायता उपलब्ध करा रही है वहीं लोगों के झगड़े से गरीब लाचार उपभोक्ता फंसे हुए थे और अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे। इस संबंध में खाद्य अधिकारी मड़िहान विनोद तिवारी ने बताया कि पूरे मामले की जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस