जागरण संवाददाता, मीरजापुर : जनपद पुलिस के ट्विटर हैंडल पर हरियाणा में रहने वाले युवक ने मदद मांगी तो पुलिस ने उसके पिता तक स्पाइन की दवा पहुंचाने में देर नहीं लगाई। कछवां थानाक्षेत्र के दियांव गांव के मूल निवासी अरविद उपाध्याय हरियाणा में रहकर निजी सेक्टर में नौकरी करते हैं। उन्होंने एक दवा की फोटो पोस्ट कर बताया कि मेरे पिता शिवधारी उपाध्याय घर पर अकेले रहते हैं और उनकी स्पाइन की दवा चल रही है। दवा खत्म हो जाने के कारण उनके स्पाइन में तेज दर्द है। घर पर कोई जिम्मेदार व्यक्ति दवा लाने वाला नहीं है। इस ट्विट को संज्ञान लेकर सोशल मीडिया सेल द्वारा पुलिस अधीक्षक को अवगत कराया गया। एसपी डा. धर्मवीर सिंह ने यूपी 112 प्रभारी राकेश सिंह को दवा पहुंचाने के लिए निर्देशित किया। इसके बाद पुलिस ने शिवधारी उपाध्याय को दवा उपलब्ध कराई। इस शिवधारी ने प्रसन्न होकर पीआरवी टीम के कार्यों की सराहना की। सराहनीय कार्य करने वाली यूपी-112 पीआरवी के रमाकांत यादव, सुरेश यादव व सुशील सिंह शामिल रहे। चौबीस घंटे में किशोर को खोजा

जिगना पुलिस द्वारा गुमशुदा सुमित कुमार यादव (16) पुत्र श्यामसुंदर यादव निवासी ग्राम नगवासी थाना जिगना को सर्विलांस के माध्यम से लोकेशन ट्रेस कर चौबीस घंटे में खोज निकाला गया। उसे मिश्रपुर भदोही के पीपापुल गंगाघाट से सकुशल बरामद किया गया। थाना प्रभारी छोटक यादव ने बताया कि किशोर ने स्वेच्छा से वहां जाना बताया जिसे घरवालों को सुपुर्द कर दिया गया। इस संबंध में गुमशुदगी की रिपोर्ट जिगना थाने में दर्ज कराई गई थी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस