जागरण संवाददाता, पटेहरा (मीरजापुर) : विकास खंड को जनपद से जोड़ने वाली मुख्य सड़क पर मड़िहान ब्रांच के पुल का आधा हिस्सा वर्षो से गायब है। जबकि इसी मार्ग से प्रमुख सचिव और जिले के आला अधिकारी और जनप्रतिनिधियों गुजरते रहते है। आए दिन पुलिया से बचने के लिए पटेहरा के मुख्य बाजार के घरों में वाहन घुस जाती है। क्षेत्र के लोगों ने कई बार पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों से मरम्मत कराने की गुहार लगाई लेकिन आज तक कोई सुनवाई नहीं हुई।

क्षेत्र के सुरेश कुमार मोदनवाल ने बताया कि जनपद से पटेहरा को जोड़ने वाली सड़क इस समय जान लेवा बन गई है। आए दिन इस मार्ग पर दुर्घटनाएं हो रही है फिर भी विभाग की तंद्रा नहीं खुल रही। पुष्पराज ने बताया कि पटेहरा की मुख्य सड़क को चौड़ीकरण में ठेकेदार की लापरवाही से बराबर दुर्घटनाएं बढ़ गई है। ठेकेदार द्वारा घटिया किस्म की गिट्टी व भस्सी रास्ते में गिरा कर गायब है। पटरी खोद कर पाटा नहीं जा सका है। जिससे सड़क पर दुर्घटनाएं आम हो गई है। दिनेश कुमार ने बताया कि पटेहरा सड़क पर बने पुल की बाही वर्षो से गायब है। विरोध जताने पर लोक निर्माण विभाग के लोग गड्ढ़े में भस्सी डाल कर चले जाते है। कुछ ही दिन बाद भस्सी खिसक कर मड़िहान ब्रांच में चली जाती है जिससे वाहन चालकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। अवधेश कुमार गुप्ता ने बताया कि नहर का अधूरा पुल पर किसी की निगाहें नहीं पड़ती। जल्द बाजी में लोग नहर में चले जाते है चोटिल भी होते है।

Posted By: Jagran