जागरण संवाददाता, मीरजापुर : गेहूं खरीद में महिला कृषकों को प्राथमिकता दी जाएगी, केंद्र पर पहले महिला किसानों के गेहूं की खरीद की जाएगी। धान के लिए आनलाइन पंजीयन कराने वाले किसानों को गेहूं खरीद में पंजीयन नहीं कराना पड़ेगा साथ ही महिलाओं को गेहूं खरीद में वरियता दी जाएगी। शासन द्वारा गेहूं का समर्थन मूल्य 1840 रुपया प्रति कुंतल रखा गया है साथ ही किसानों को 20 रुपया प्रति कुंतल की दर से उतराई भी मिलेगा।100 कुंतल तक बिक्री करने वाले किसानों को सत्यापन नहीं कराना पड़ेगा।

जनपद में गेहूं खरीद एक अप्रैल से आरंभ हो रही है, जो 15 जून तक चलेंगी। इस बार किसानों से गेहूं खरीद के लिए 78 क्रय केंद्र बनाए गए हैं। जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने एडीएम वित्त व राजस्व यूपी सिंह को खरीद प्रभारी बनाया है।सरकार द्वारा गेहूं खरीद में पारदर्शिता लाने और उपज का समर्थन मूल्य दिलाने के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू की गई है। गेहूं बिक्री के लिए किसान ऑनलाइन पंजीकरण कराएंगे। जिला खाद्य विपणन अधिकारी ने बताया कि किसानों से गेहूं खरीद के लिए खाद्य विभाग के 11, पंजीकृत सहकारी समितियां के 27, पीसीएफ के 32, कर्मचारी कल्याण निगम के तीन, यूपी एग्रो के चार और भारतीय खाद्य निगम के एक सहित 78 क्रय केंद्र बनाए गए हैं। जिला खाद्य व विपणन अधिकारी ने बताया कि खाद्व विभाग का मिर्जापुर, कोन, गेपुरा, कछवां, पहाड़ी, लालगंज, हलिया, मड़िहान, राजगढ़, चुनार और अहरौरा में केंद्र खोला गया है। वहीं पीसीएफ द्वारा मीरजापुर में भोड़सर, कोन के चेकसारी, गैपुरा के गौरा, बौड़ई, नौगांव, कोलेपुर, चडेचा और कछवां के बजहा में खरीद केंद्र बनाया गया है।

वर्जन

धान खरीद में पंजीयन कराने वाले किसान को पंजीयन की जरूरत नही। जिन किसानों ने पंजीयन नहीं कराया है। ऐसे किसान खाद्य विभाग की वेबसाइट पर साइबर कैफे अथवा जनसेवा केंद्र में पंजीकरण करा सकते हैं। किसान पंजीकरण के लिए फोटो, आधार अथवा निर्वाचन कार्ड, भूमि की खतौनी अथवा खसरा और बैंक खाते की पासबुक साथ ले जाएं।

- अजीत कुमार त्रिपाठी , जिला खाद्य विपणन अधिकारी।

-----------

गेहूं खरीद: एक नजर

क्रय केंद्र: 78

खरीद शुरु: एक अप्रैल से

समर्थन मूल्य : 1840 तथा 20 रूपया उतराई

सत्यापन मुक्त : 100 कुंतल तक।

Posted By: Jagran