जासं, मीरजापुर : उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के तत्वावधान में शिक्षकों ने अपने घरों पर उपवास रखा। प्रदेशीय मंत्री डा. प्रमोद कुमार मिश्र ने सरकार पर आपातकाल जैसे नियम थोपने का आरोप लगाया। कहा कि कोरोना की आड़ में सूबे की सरकार शिक्षकों व कर्मचारियों संग आपातकाल जैसा व्यवहार कर रही है। महामारी में जान जोखिम में डालकर जबरन मूल्यांकन कार्य कराया जा रहा है। जुलाई 2021 तक को डीए मनमाने तरीके से रोक दिया गया। इससे शिक्षकों, कर्मचारियों को लाखों रुपये का नुकसान हो रहा है। मंडलीय अध्यक्ष केदारनाथ दूबे ने कहा कि बिना प्रशिक्षण ऑनलाइन क्लास चलवाया जा रहा है। दस फीसद छात्रों के पास एंड्रायड मोबाइल ही नहीं है। उपवास रखने वालों में जिलाध्यक्ष सत्यभूषण सिंह, बलवंत सिंह, डा. धर्मराज सिंह, भुवनेश्वर पांडेय, श्रीप्रकाश सिंह, राधाकांत त्रिपाठी, शशिधर उपाध्याय, हीरालाल मिश्र, तेजई राम, प्रवीण सिंह, कौशल सिंह आदि शामिल रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस