जागरण संवाददाता, मीरजापुर : सिटी विकास खंड के ग्राम अर्जुनपुर के प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण करने पहुंचे डीएम को दाल की गुणवत्ता खराब मिली। दोपहर तक खाना बनकर तैयार था लेकिन बच्चों को खिलाया नहीं गया था। इससे नाराज जिलाधिकारी ने कड़ी चेतावनी दी और कहा कि बच्चों को समय से खाना दिया जाए।

निरीक्षण के दौरान शौचालय ठीक पाया गया। निरीक्षण के दौरान कुछ अध्यापक स्कूल में कार्यरत मिले जिसमें एक प्रधानाध्यापक, तीन सहायक अध्यापक तथा दो शिक्षा मित्र सभी मौके पर उपस्थित पाए गए। कक्षाओं में छात्रों की उपस्थिति कक्षा एक में 16, कक्षा दो में 20, कक्षा तीन में 17, कक्षा चार में 23 तथा कक्षा पांच में 14 छात्र उपस्थित मिले। सभी कक्षाओं को मिलाकर कुल 181 छात्रों का नामांकन किया गया है, जिसमें आज 90 छात्र उपस्थित मिले। जिलाधिकारी द्वारा कक्षा चार व तीन के छात्रों से पठन-पाठन के बारे में जानकारी ली गई। इसमें मात्र दो छात्र ही सवालों का जबाब दे सके। जिलाधिकारी ने संबंधित सहायक अध्यापक को पठन-पाठन की गुणवत्ता ठीक करने का निर्देश दिया। इस दौरान डीएम ने रसोई में जाकर बन रहे भोजन की भी पड़ताल की। स्टोर में रखा तेल, मसाला व नमक आदि सामानों की भी जांच की गई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप