जागरण संवाददाता, जमालपुर (मीरजापुर) : क्षेत्र का हसौली-मुडहुआ संपर्क मार्ग दयनीय दशा में पहुंच गया है। करीब एक दशक पूर्व लोकनिर्माण विभाग द्वारा बनवाए गए संपर्क मार्ग की गिट्टियां सड़क पर बिखरी हुई है। जगह-जगह सड़क गड्ढों में तब्दील हो गई है। जिससे राहगीरों को यात्रा करने में भारी परेशानी झेलनी पड़ती है। सड़क पर बने गड्ढों में फंसकर राहगीर आए दिन गिरकर चोटिल होते रहते है, जिनकी चिता करने वाला कोई नहीं है। लगभग दो किलोमीटर लंबा संपर्क मार्ग अपने जीर्णोद्धार की प्रतीक्षा कर रहा है। संपर्क मार्ग का निर्माण न कराए जाने से लोगों मे लोक निर्माण विभाग के खिलाफ गहरा आक्रोश व्याप्त है। लोकनिर्माण विभाग की उपेक्षा के कारण संपर्क मार्ग पर यात्रा करने वाले राहगीर हिचकोले खाते हुए अपने गंतव्य तक जाने को मजबूर हैं। राहगीरों के बोल-------

संपर्क मार्ग की बदहाली दूर करने के लिए कोई आगे नहीं आ रहा है जिससे लोग परेशानी झेलने को विवश हैं।लोगों की चिता करने वाला कोई नहीं है।

प्रताप नारायण दीक्षित। गड्ढायुक्त सड़क जानलेवा साबित हो रही है एवं आए दिन लोग गिरकर चोटिल होते रहते है। वही स्कूल जाने वाले छोटे-छोटे बच्चों को अधिक परेशानी होती है।

सुभाष पासवान सड़क खराब रहने से संपर्क मार्ग पर यात्रा करने वाले राहगीर कमर दर्द एवं श्वास रोग संबंधी बीमारियों की चपेट में आ जा रहे है।

कमलेश दुबे बदहाल संपर्क मार्ग का निर्माण नहीं कराए जाने से लोगों को भारी असुविधा झेलनी पड़ रही है। संपर्क मार्ग के निर्माण की चिता करने वाला कोई नहीं है।

विद्यानाथ दुबे संपर्क मार्ग क्षतिग्रस्त होने से छात्र-छात्राओं को कालेज आने-जाने मे मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। मजबूरी में छात्र-छात्राएं यात्रा करने को विवश है।

चंद्रभान गुप्ता। विभागीय अधिकारियों की उपेक्षा के कारण लोगों को आवागमन में भारी परेशानी उठाना पड़ रहा है। संबंधित विभाग और जनप्रतिनिधियों द्वारा आंखें बंद कर लेने से लोग परेशानी झेलने को विवश है।

भगवान दास पांडेय

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप