जागरण संवाददाता, कछवां (मीरजापुर) : आदर्श नगर पंचायत के दर्जनों ठेकेदारों ने पूर्व में हुई बोर्ड की बैठक बहिष्कार के बाद लामबंद होकर मंगलवार को मिनी सदन बोर्ड के प्रतिनिधियों के कार्यप्रणाली से आक्रोशित होकर नगर पंचायत कार्यालय के मुख्य द्वार पर ताला लगाकर बंद कर दिया। साथ ही जमकर घंटों बवाल काटा। मौके पर पहुंचे अधिशासी अधिकारी नवनीत कुमार सिंह के काफी प्रयास के बाद ठेकेदारों ने ताला खोलने को तैयार हुए।

ठेकेदारों ने आरोप लगाते हुए कहा कि बाइस माह के कार्यकाल में अब तक लगभग आठ बार निविदा निकालने के बाद निरस्त किया जा चुका है। कभी कमीशन का दबाव तो कभी चेयरमैन और सभासदों का आपसी तालमेल न बैठना, कभी टेंडर प्रक्रिया में अपूर्ण कागजात की कमी बताना आदि आरोप लगाते हुए पत्रक सौंपा। वहीं सभासदों ने अपने पत्रक में आरोप लगाते हुए मांग की कि निर्माण कार्य की खुली निविदा को निरस्त कर ई टेंडरिग के माध्यम से कराया जाए क्योंकि ठेकेदारों और अध्यक्ष के मध्य गुप्त समझौता कमीशन तय करके हो गया है। इस मौके पर जय कुमार उपाध्याय, जोखनराम, हर्षित सिंह, गया सिंह, प्रेमप्रकाश, चन्द्रधर सिंह, सुनील आदि रहे। वर्जन 

चेयरमैन, सभासद और ठेकेदारो को एक साथ बैठक कर समस्या का हल निकालना होगा, अन्यथा विकास प्रभावित हो रहा है जो जनहित में नहीं है।

नवनीत कुमार सिंह, ईओ नपं कछवां।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस