जागरण संवाददाता, मीरजापुर : माध्यमिक शिक्षा परिषद की कापियों के मूल्यांकन ने रविवार को एक बार फिर तेजी पकडा। नगर के चारों केंद्रों पर परीक्षकों द्वारा लगभग 37 हजार 82 कापियों का मूल्यांकन किया गया। रविवार को नगर के स्व. कांशीराम राजकीय बालिका इंटर कालेज में इंटरमीडिएट भूगोल, कंप्यूटर, बैंकिग, मनोविज्ञान, चित्रकला आदि कापियों का मूल्यांकन पूरा हो गया। शिक्षक एमएलसी चेतनारायण सिंह ने चारों केंद्रों पर भ्रमण किया और परीक्षकों की समस्याओं को सुना। कहा कि शिक्षकों द्वारा हड़ताल में सहयोग करने के साथ ही मांगों को मानने को मजबूर हुई।

शिक्षक एमएलसी ने कहा कि उन्होंने कहाकि वह शिक्षकों की समस्याओं के निदान को लेकर गंभीर है। इस दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष रमेश सिंह, प्रदेश मंत्री राकेश सिंह, मंडल अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह, भदोही जिलाध्यक्ष वासुदेव तिवारी, जिला मंत्री विनय कुमार सिंह, जिलाध्यक्ष प्रवीण सिंह, रविद्र सिंह, अभिषेक सिंह, राजेंद्र तिवारी, राहुल सिंह, पवन सिंह, प्रशांत वर्मा, कपूरचंद्र केशरवानी, दिनेश कनोजिया आदि मौजूद रहे। नगर के माता प्रसाद माता भीख इंटर कालेज के प्रधानाचार्य संजय कुमार मिश्रा ने बताया कि मूल्यांकन के लिए 44 डिप्टी हेड और 425 परीक्षक लगाए गए हैं। परीक्षकों द्वारा 9655 कापियों का मूल्यांकन किया गया। स्व. कांशीराम राजकीय बालिका इंटर कालेज की प्राचार्या अनिता यादव ने बताया कि मूल्यांकन के लिए 29 डिप्टी हेड और 228 परीक्षक लगाए गए हैं। परीक्षकों द्वारा 5949 कापियों का मूल्यांकन किया। राजस्थान इंटर कालेज के प्रधानाचार्य अशोक शुक्ला ने बताया कि मूल्यांकन के लिए 34 डिप्टी हेड और 324 परीक्षकों को लगाया गया है। परीक्षकों द्वारा 13 हजार कापियों का मूल्यांकन किया गया। बीएलजे इंटर कालेज के प्रधानाचार्य श्यामजी सोनी ने बताया कि मूल्यांकन के लिए 31 डिप्टी हेड और 195 परीक्षक लगाए गए हैं। जिसमें से परीक्षकों द्वारा 8475 कापियों का मूल्यांकन किया गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप