जासं, लालगंज(मीरजापुर) : उपरौध अधिवक्ता समिति के अध्यक्ष के नेतृत्व अधिवक्ताओं ने मंगलवार को जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल से मिलकर लालगंज में सिविल कोर्ट की जोरदार मांग किया। अधिवक्ता समिति के अध्यक्ष त्रिलोक नाथ दुबे ने कहा कि इसके पहले कोर्ट की जमीन की मांग को लेकर समिति के सदस्य न्यायिक कार्य से विरत रह चुके है।

समिति के पूर्व अध्यक्ष चंद्रदत्त त्रिपाठी ने कहा कि चार लाख आबादी के तहसील वासियों के वादकारियों के हित में सिविल कोर्ट की स्थापना और जमीन जरूरी है। इससे हाईकोर्ट के गाइडलाइन को सही आकार मिलेगा। वरिष्ठ अधिवक्ता पूर्व अध्यक्ष प्रभुनाथ दुबे ने जिलाधिकारी को बताया कि सिविल कोर्ट के लिए जमीन की फाइल बनी है। जिसे क्रियाशील किए जाने की जरूरत है। वरिष्ठ अधिवक्ता कैलाशपति त्रिपाठी ने अपनी मांग रखते हुए बताया कि सिविल कोर्ट जिले की सुरक्षित विधानसभा लालगंज तहसील में जरूरी है। इसके मीरजापुर के न्यायाधीश का दौरा हो चुका है। अधिवक्ता पन्नालाल सिंह ने मांग किए कि लालगंज तहसील में सिविल कोर्ट होने से सस्ता न्याय मिलेगा। मीरजापुर आने जाने के किराए व समय का बचत होगी। मांग करने वालों में अधिवक्ता राकेश दुबे, धनेश्वर गौतम, अरूण त्रिपाठी, अरूण कुमार सिंह, विवेक सिंह, संतोष मिश्रा, श्रीचंद आदि रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप