मीरजापुर : महुवरिया स्थित बाबूलाल जायसवाल इंटर कॉलेज के मैदान में शनिवार को प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के तत्वावधान में दो दिवसीय तनाव प्रबंधन एवं परमात्म अनुभूति शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में आज के व्यस्त जीवन में तनाव से मुक्ति पाने पर जानकारी प्रदान की गई।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि प्रदेश श्रमायुक्त सीताराम मीणा ने कहा कि ब्रह्माकुमारीज ने नारी सशक्तिकरण की अद्भुत मिसाल पेश करते हुए पूरे विश्व में मानवता की सेवा करने का अनुकरणीय कार्य किया है। उन्होंने स्वयं अपने जीवन में आये परिवर्तन का श्रेय इस संस्था को दिया। मंडलायुक्त एल. वेंकेटश्वर लू ने कहा कि आज का मानव दिग्भ्रमित है कि वह किस राह पर चलकर अपना जीवन तनावमुक्त बनाए। कहा कि यहां की कर्मयोग की शिक्षा से वह अधिक प्रभावित हैं। शिविर की मुख्य वक्ता एवं प्रशिक्षिका राजयोगिनी बीके उषा दीदी ने कहा कि तनाव ने आज हर इंसान को खोखला कर दिया है। तनाव से दूर रहने के लिए हमें हमारे विचारों को समर्थ एवं शक्तिशाली बनाना होगा। इसके पूर्व कार्यक्रम का उद्घाटन राजयोगिनी बीके ऊषा दीदी, राजयोगिनी बीके सुरेंद्र दीदी, श्रमायुक्त सीताराम मीणा व मंडलायुक्त एल. वेंकेटश्वर लू ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। उद्घाटन समारोह में पं. महेश्वरपति त्रिपाठी के शिष्यों ने कथक नृत्य व प्लेवे स्कूल के बच्चों ने भावनृत्य प्रस्तुत किया। धन्यवाद ज्ञापन बीके प्रदीप ने किया। संचालन बीके विपिन भाई ने किया।

मध्याह्न में संस्था के शुक्लहा स्थित नवनिर्मित सेवा केंद्र प्रभु उपहार भवन का उद्घाटन राजयोगिनी सुरेंद्र दीदी, राजयोगिनी ऊषा दीदी ने संयुक्त रूप से किया।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर