जागरण संवाददाता, मीरजापुर : प्रदेश में हुई 68500 शिक्षकों की भर्ती के क्रम में गुरुवार को पांच सौ पांच शिक्षकों को प्रोविजनल नियुक्ति पत्र वितरित किया गया। कलेक्ट्रेट में डीएम ने 10 महिला शिक्षकों को नियुक्ति पत्र वितरित किया। शेष को बरियाघाट स्थित बीएसए कार्यालय से वितरित किया गया। बीएसए कार्यालय पर अभ्यर्थियों एवं उनके अभिभावकों की भारी भीड़ थी। दिनभर काफी गहमागहमी रही।

जिले में शासन से 578 शिक्षकों के चयन की सूची आई थी, जिसमें से काउंसि¨लग के लिए 573 ही उपस्थित हुए। इनके लिए एक व दो सितंबर को काउंसि¨लग की गई और तीन सितंबर को महिला व विकलांग अभ्यर्थियों से उनके विकल्प मांगे गए। चार व पांच सितंबर को अभिलेखों का सत्यापन किया गया और गुरुवार को नियुक्ति पत्र वितरित कर दिया गया।

महिला शिक्षकों की विकल्प के अनुसार हुई तैनाती

शासनादेश के तहत महिला व विकलांग अभ्यर्थियों की तैनाती उनके दिए विकल्प के अनुसार की की जानी थी। इस क्रम में अधिकांश महिला शिक्षकों को विकल्प के अनुसार सिटी, कोन, मझवां व सीखड़ विकास खंडों में तैनाती दी गई। कुल चयनित शिक्षकों में महिला शिक्षकों की संख्या 220 है। 85 बंद स्कूल खुलेंगे

इस नियुक्ति से 85 बंद स्कूल खुल जाएंगे। जिले में बड़ी संख्या में एकल अथवा शिक्षामित्रों के द्वारा संचालित विद्यालय हैं। उनको इस नियुक्ति से राहत मिलेगी। इस नियुक्ति में 150 शिक्षामित्रों को भी तैनाती मिली है। इसमें नौ चयनित शिक्षकों का नियुक्ति पत्र रोका गया है। उनके अभिलेखों में कुछ कमी थी। उसके लिए उनको सूचित कर अभिलेख प्रस्तुत करने को कहा गया है। अभिलेख देते ही नियुक्ति पत्र रिलीज कर दिया जाएगा। तीन सदस्यीय टीम कर रही जांच

जिले में 2010 से अब तक की हुई नियुक्तियों की जांच तीन सदस्यीय टीम कर रही है। अध्यक्ष एडीएम व एएसपी तथा एडी बेसिक इसके सदस्य हैं। यह सभी नियुक्तियों की जांच, रिक्तियां, योग्यता व अभिलेखों के साथ कर रहे हैं। इससे नियुक्ति में पारदर्शिता आने की बात कही जा रही है। वर्जन ..

पंजीकृत नियुक्ति पत्र पर ही ज्वाइ¨नग होगी। जो शिक्षकों के स्थायी पते पर पंजीकृत डाक से भेजा जा रहा है। आज जो नियुक्ति पत्र जारी किया जा रहा है वह प्रोविजनल है। इसमें अभ्यर्थियों के सभी डिटेल वास्तविक हैं लेकिन ज्वाइ¨नग इस पर नहीं होगी।

- प्रवीण कुमार तिवारी, बीएसए मीरजापुर ।

----------------- बीएसए के समझाने पर माने

नियुक्ति पत्र के लिए अभ्यर्थियों ने भारी भीड़ लगा रखी थी। शोर शराबा हो रहा था। इस पर बीएसए ने पहले महिला व बाद में पुरुष शिक्षकों के समूह को बुलाकर बताया कि नियुक्ति पत्र वितरित किया जा रहा है लेकिन ज्वाइ¨नग रजिस्टर्ड नियुक्ति पत्र पर ही होगी। इसके बाद भी बाहर हो-हल्ला होता रहा। इस पर बीएसए स्वयं बाहर गए और लोगों को समझाया। उसके बाद परिसर में तीन काउंटर बनाकर सभी को नियुक्ति पत्र वितरित किया गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप