मेरठ, जेएनएन। दिल्ली-देहरादून हाईवे पर गुरुवार तड़के दौराला गांव के सामने अनियंत्रित हुई एक्सयूवी कार डिवाइडर कूदकर दूसरी साइड में पहुंच गई और बस से जा टकराई। हादसे में कार सवार दो युवकों की मौत हो गई। चालक गंभीर रूप से घायल है। बस में सवार 47 यात्री बाल-बाल बचे। मरने वालों में एक भगवानपुर टोल प्लाजा के मैनेजर और दूसरे सुवरवाइजर हैं।

यह है मामला

एक्सयूवी कार संख्या आरजे - 22 यूए-2666 हरिद्वार से दिल्ली की तरफ जा रही थी। चालक समेत तीन लोग सवार थे। पुलिस के मुताबिक, दौराला गांव के सामने आते ही एकाएक एक्सयूवी अनियंत्रित हो गई और डिवाइडर पर चढ़ते हुए दूसरी साइड में पहुंच गई और राजस्थान से हरिद्वार जा रही बस संख्या -जीजे -03 एजेड-3620 से जा टकराई। एक्सयूवी में सवार कस्बा व थाना भगवानपुर जिला हरिद्वार उत्तराखंड निवासी 21 वर्षीय आशु और कस्बा व थाना खट्टा जिला कुशीनगर यूपी निवासी 41 वर्षीय मयेश शुक्ल पुत्र नागेंद्र शुक्ल की मौत हो गई। कार चालक शिवचंडी रोड रुड़की रोड हरिद्वार निवासी जगदीप पुत्र जसङ्क्षवद्र गंभीर रूप से घायल हो गया। एक्सयूवी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। हादसा होते ही बस की सवारियों में चीख पुकार मच गई। गनीमत रही बस में सवार लोगों को चोट नहीं आई। काफी देर तक जाम लगा रहा। पुलिस ने बुलडोजर से एक्सयूवी खींचकर शव मर्चरी और घायल को अस्पताल भिजवाया। स्वजन भी पहुंच गए। पुलिस ने बस चालक गुजरात निवासी मोहित जी एम ठाकुर को हिरासत में ले लिया। मृतक आशु के पिता पृथ्वी सिंह ने बताया कि मयेश रुड़की भगवानपुर टोल प्लाजा में मैनेजर थे जबकि आशु वहां सुपरवाइजर थे। दोनों किसी काम से सिवाया टोल पर आ रहे थे लेकिन टोल से डेढ़ किलोमीटर पहले ही हादसा हो गया। दोनों अविवाहित थे। पृथ्वी सिंह उत्तराखंड रोडवेज में क्लर्क हैं।

इन्‍होंने बताया...

एक्सयूवी चालक नियंत्रण खो बैठा और कार दूसरी साइड में पहुंचकर बस से भिड़ गई। दो युवकों की मौत हुई है। स्वजन की तहरीर पर बस चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

- नरेंद्र शर्मा, इंस्पेक्टर-दौराला।

 

Edited By: Taruna Tayal