मुजफ्फरनगर, जागरण संवाददाता। अर्जुन अवार्डी पहलवान दिव्या काकरान की सगाई जनपद शामली के गांव जाफरपुर निवासी मास्टर भोपाल सिंह के पौत्र सचिन प्रताप से हो गई है। सचिन प्रताप मेरठ में नेशनल बाडी बिल्डर खिलाड़ी हैं। सचिन प्रताप के पिता मेरठ में पीटीएस में सब इंस्पेक्टर के पद पर तैनात हैं और वह इंस्ट्रेक्टर के रूप में पुलिसकर्मियों को प्रशिक्षण देते हैं। हाल में वह पिता के साथ पीटीएस मेरठ स्थित सरकारी आवास में ही रह रहे हैं।

सचिन प्रताप नेशनल बाडी बिल्डर खिलाड़ी हैं

मंसूरपुर क्षेत्र के गांव पुरबालियान निवासी पहलवान सूरजवीर की बेटी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर जिले का नाम रोशन करने वाली अर्जुन अवार्डी पहलवान दिव्या काकरान की सगाई 25 जनवरी को हो गई। उनका विवाह जनपद शामली के गांव जाफरपुर निवासी मास्टर भोपाल सिंह सेन के पौत्र व सब इंस्पेक्टर भानू प्रताप के बेटे सचिन प्रताप से होगा। भानू प्रताप पीएसी मेरठ में पुलिसकर्मियों को प्रशिक्षण देते हैं और परिवार के साथ मेरठ में ही रहते हैं। सचिन प्रताप नेशनल बाडी बिल्डर खिलाड़ी हैं।

ओलंपिक को छोड़कर कुश्ती की सभी स्पर्धाओं में पदक हासिल

दिव्या राष्ट्रीय-अतंर्राष्ट्रीय स्तर पर अब तक 77 मेडल जीत चुकी हैं। 2020 में उन्हें अर्जुन अवार्ड मिल चुका है। नवंबर 2021 में सर्बिया में हुई वर्ल्ड चैंपियनशिप में दिव्या ने कांस्य पदक प्राप्त किया था। दिव्या के पिता सूरजवीर ने बताया कि दिव्य ने ओलंपिक को छोड़कर कुश्ती की सभी स्पर्धाओं में पदक हासिल कर लिया है। अब ओलंपिक का पदक बाकी है। इसके लिए दिव्या जीन जान से तैयारी कर रही है। दिव्या फिलहाल रेलवे में नौकरी भी कर रही है। दिव्या काकरान ओलंपिक के बाद शादी करने की बात कह रही हैं। दिव्या के पिता सूरजवीर ने बताया कि गांव पुरबालियान में ही सगाई की रस्म पूरी की गई। दोनों परिवार मंसूरपुर में ही आ गए थे। 

Edited By: Taruna Tayal