मेरठ, जेएनएन। राष्ट्रीय स्तर पर महिला फुटबॉल लीग प्रतियोगिताएं शुरू होने के साथ ही जिला स्तर पर भी तैयारी जोरों पर शुरू हो चुकी हैं। जिले की बालिका फुटबॉल खिलाड़ी भी नेशनल प्रतियोगिता तक दस्तक दे चुकी हैं। इस साल अंडर-16 नेशनल बालिका फुटबॉल प्रतियोगिता में मेरठ की हर्षिता चौधरी उत्तर प्रदेश टीम का हिस्सा रही थीं। इनके अलावा अंडर-16 आयु वर्ग की प्रदेश स्तरीय बालिका फुटबॉल प्रतियोगिता में मेरठ की बालिका फुटबॉल खिलाड़ियों ने चार मैच जीते थे। सेमीफाइनल में मेरठ की टीम वाराणसी से हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई।

ले रही हैं ट्रेनिंग

जिला फुटबॉल संघ की ओर से 100 से अधिक बालिका खिलाड़ी प्रशिक्षण ले रही हैं। शहर के अलग-अलग स्कूलों में बालिका फुटबॉल खिलाड़ियों को भी बढ़ावा दिया जा रहा है। ये खिलाड़ी स्कूल के बाद कैलाश प्रकाश स्पो‌र्ट्स स्टेडियम में फुटबॉल की ट्रेनिंग करती हैं। इनमें से 30-35 खिलाड़ी फुटबॉल प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने लगी हैं। प्रदेश स्तरीय प्रतियोगिता में चार मैचों में जीतने के साथ ही मेरठ की बालिका फुटबॉलर्स ने प्रदेश स्तर पर अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज करा दी है।

फुटबॉल प्रतियोगिता में भेजनी पड़ती थीं हॉकी खिलाड़ी

पांच साल पहले तक प्रदेश स्तरीय बालिका फुटबॉल प्रतियोगिता में मेरठ से बालिक फुटबॉल खिलाड़ियों के स्थान पर बालिका हॉकी खिलाड़ियों की फुटबॉल टीम बनाकर भेजनी पड़ती थी।

बढ़नी चाहिए कोचिंग सुविधाएं

बालिका फुटबॉल खिलाड़ियों का कहना है कि बालिकाओं के लिए खेल का मैदान व कोच बढ़ें तो बालिका खिलाड़ी बढ़ेंगी। जिला फुटबॉल संघ के सचिव व स्टेडियम के फुटबॉल कोच ललित पंत के अनुसार बालिकाओं की संख्या व रुचि फुटबॉल में बढ़ रही है। सीनियर फुटबॉल खिलाड़ियों की रुचि बढ़े तो बालिकाओं के लिए महिला कोच भी तैयार की जा सकती हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस