मेरठ, जेएनएन। लोहियानगर मंडी को मतगणना स्थल बनाने के बाद पंडित बक्शीदास इंटर कालेज में मंडी बनाने के आदेश दिए गए, लेकिन जलभराव की स्थिति को देखते हुए मंडी सचिव ने अब मंडी को बाहरी दुकानों के बाहर लगाने के आदेश दिए हैं। सचिव के आदेश से सोमवार को सुबह बारह बजे तक मंडी लगेगी। उसके बाद दुकानें खोली जाएंगी।

पंडित बक्शीदास इंटर कालेज में मंडी लगने के पहले ही दिन विरोध आरंभ होने लगा। शिक्षकों ने विरोध करना आरंभ किया, तो व्यापारियों ने भी विरोध में कोई कसर नहीं छोड़ी। शनिवार रात तेज बारिश होने से वाहन भी फंस गए। बारिश होने से शनिवार को मंडी सामने वाले पार्क में लगी। जलभराव को देखते हुए मंडी सचिव ने आदेश दिए है कि सोमवार से लोहियानगर मंडी के बाहरी दुकानों को 12 बजे तक बंद कर मंडी लगेगी। उसके बाद दुकानों का संचालन किया जाएगा। वहीं, दुकानदार और मंडी आढ़ती इस निर्णय का भी विरोध कर रहे है।

सर्द हवाओं ने किया घरों में कैद

मवाना : पिछले दो दिन से रुक-रुककर बारिश होने के कारण जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। शनिवार मध्य रात्रि से शुरू हुई बारिश रविवार को दिनभर जारी रही। दूसरे दिन भी बाजारों में रौनक गायब रही। दुकानदार ग्राहकों की बाट जोहते नजर आए। उधर, शाम ढलते ही कड़ाके की ठंड ने लोगों को घरों में कैद होने के लिए विवश कर दिया।

कड़ाके की सर्दी के बीच दो दिन से रुक-रुककर हो रही बारिश से ठंड बढ़ गई है। शनिवार को रातभर बारिश होती रही। रविवार को हालात जुदा नहीं रहे। दिनभर बूंदाबांदी के कारण जनजीवन अस्तव्यस्त रहा। मौसम की बदमिजाजी के चलते देहात से लोगों का आवागमन कम रहा। बाजारों में आवाजाही कम रही। दुकानदार ग्राहकों की बाट जोहते दिखाई दिए। बारिश और सर्द हवाओं ने लोगों को घरों में कैद होने के लिए विवश कर दिया। शाम ढलते ही बाजार बंद हो गए और कड़ाके की ठंड के कारण लोग घरों में कैद हो गए।

पानी की निकासी न होने जलभराव व कीचड़

बारिश के कारण तहसील मैदान, चौहान चौक व तेलियों वाला कुआं के आसपास जलभराव की समस्या रहीं, जबकि बड़ा महादेव मंदिर के सामने स्थित प्रेम नगर कालोनी में रास्ता कच्चा होने व पानी की निकासी न होने से कीचड़ की समस्या बन गई। जिस कारण कालोनी वासियों को आवागमन में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

Edited By: Jagran