मेरठ,जेएनएन। आनलाइन मुशायरा व कवि सम्मेलन के आयेाजन के आखिरी दिन सत्र पदमश्री अनवर जलालपुरी के नाम रहा। शनिवार राज स्टार सत्र में दुनिया भर से पांच सौ से ज्यादा शायरों ने शिरकत की।

दा पोएट्री व‌र्ल्ड व पीडब्ल्यू टीवी के तत्वावधान में तारीफ नियाजी के संयोजन में पांच दिनों तक चलने वाला आयोजन रविवार तक चला। सत्र में मुख्य अतिथि के रूप में फिल्म गीतकार संवाद व लेखक एएम तुराज रहे। इसकी सदारत मलिकजादा जावेद व निजामत मननान फराज व शाकिर हुसैन इस्लामी ने की।

इस दौरान डा. वसीम राहत ने कहा कि

ने जाने कौन से कैदी की बददुआ है वसीम।

कि सबके घर हुए तब्दील कैदखानों में।।

शहरयार जलालपुरी ने सुनाया कि

वो कहीं भी न मिल सका मुझकों।

आसमां तक पुकार आया हूं।।

दिल की दुनिया अजीब दुनिया है।

मैं यहां पहली बार आया हूं।।

एएम तुराज ने कहा कि

तुम्हारे वास्ते ये गम उठाने वाला हूं।

रुको ऐ आंसुओं मैं मुसकुराने वाला हूं।।

इनके अलावा एसएस मेंहदी इमाम, शाद फरीदी, मौ. अनस फैजी आलोक यादव, शफीक, आबिदी, तारा इकबाल, प्रीता, सुरेंद्र अश्क, रामपुरी आदि ने कलाम पेश किया। यह सत्र रात दो बजे तक चला रहा। सक्सेस सेरेमनी का हुआ आयोजन

रविवार शाम सक्सेस सेरेमनी का आयोजन हुआ। इसमें मुख्य अतिथि खालिद अखलाक रहे। तारीफ नियाजी ने मुशायरा व कवि सम्मेलन में सहयोग करने वाले आरिफ अहमद, रियाज सागर, अभिषेक तिवारी, खालिद नदीम बदायूंनी, जुबैर अंसारी, राजवीर सिंह राज आदि का शुक्रिया किया। रात नौ बजे तक चला कार्यक्रम

सम्मेलन के पीआर मैनेजर शाहिद मिर्जा ने बताया कि सक्सेस सेरेमनी का आयोजन रविवार रात नौ बजे तक चला। उन्होंने बताया कि मंगलवार से यह आयोजन शुरू हुआ था। अब तक करीब यह कार्यक्रम करीब 128 घंटे चला है। वहीं, संयोजक तारीफ नियाजी ने व‌र्ल्ड रिकार्ड बनाने का दावा किया है।

Edited By: Jagran