सहारनपुर,जागरण संवाददाता। सहारनपुर में हथियारों के साथ फोटो खिंचवाना जिले के युवाओं का शौक बन रहा है। युवा फोटो खिंचवाने तक ही सीमित नहीं है। इसके बाद वह इन फोटो को व्हाट्स एप स्टेटस पर लगाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर रहे हैं। यही नहीं, फोटो को एडिट करके ऐसी बात लिखते हैं, जिससे पढऩे या देखने वाला दहशत में आ जाए। अभी हाल फिलवक्त में देहात कोतवाली क्षेत्र के दो युवकों ने हथियारों के साथ फोटो ङ्क्षखचवाए और उन्हें अपने Whatsapp व्हाट्स एप स्टेटस पर लगा लिया। यह फोटो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। पुलिस इन युवकों की तलाश कर रही है।

पुलिस भी हो रही हैरान

दरअसल, हाल ही में जनकपुरी थानाक्षेत्र के एक गांव के 15 से 20 युवकों का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इस वीडियो में एक गाना शूट किया हुआ है और फोटो में युवक हथियारों के साथ दिख रहे हैं। जैसे ही यह वीडियो पुलिस के पास पहुंचा तो पुलिस भी हैरानी में आ गई और विचार होने लगा कि आखिर इतने हथियार युवकों के पास कहां से आए। इन सभी युवकों के पास तमंचे थे। किसी के पास आधी बंदूक भी थी। जिसे मसकट कहते हैं। हालांकि बाद में पुलिस ने कई युवकों को पकड़ा और जेल भेज दिया।

जांच कराई जाएगी

किसी ने बताया कि दोस्त से खरीदा है तो किसी ने मुजफ्फरनगर से। अब देहात कोतवाली के यह युवक सुर्खियों में है। हैरत की बात यह है कि देहात कोतवाली के एक दारोगा को यह फोटो मिल गए। वह युवकों के घर पहुंचे और उन्होंने गिरफ्तारी का डर दिखाकर युवकों के परिजनों से सेटिंग कर ली। इंस्पेक्टर उमेश रोरिया को भनक तक नहीं है। हालांकि अब इंस्पेक्टर देहात कोतवाली उमेश रोरिया का कहना है कि मामले की जांच कराई जाएगी और दारोगा से ही कार्रवाई कराई जाएगी।

इनका कहना है

दो युवकों के फोटो सोशल मीडिया के माध्यम से हमे मिले हैं। इन पर सख्त कार्रवाई के लिए देहात कोतवाली प्रभारी उमेश रोरिया को बोल दिया गया है।

- राजेश कुमार, एसपी सिटी

Edited By: Prem Dutt Bhatt