बुलंदशहर, जागरण संवाददाता। मूल रूप से सिकंदराबाद ब्लाक क्षेत्र की इस्माइलपुर निवासी पूनम पंडित को कांग्रेस ने स्याना विधानसभा सीट से प्रत्याशी घोषित किया है। रूरल यूथ गेम 2018 में 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में पूनम ने गोल्ड जीता था। ज्यादा चर्चा में वह किसान आंदोलन से आईं। मुजफ्फरनगर में आयोजित किसान महापंचायत में उन्हें मंच पर चढ़ने से रोक दिया गया था। इस दौरान वह कई चैनलों पर इंटरव्यू देती भी नजर आई थीं और कई लोगों पर गंभीर आरोप भी लगाए थे।

सपना चौधरी की सुरक्षा में भी रही थीं तैनात

पूनम कभी हरियाणवी डांसर सपना चौधरी की सुरक्षा में भी तैनात रही थीं। एक इंटरव्‍यू में पूनम पंडित ने कहा था कि उन्‍हें यह कहने में कोई गुरेज नहीं है कि वह सपना चौधरी की बाउंसर रहीं हैं। बाउंसर भी खेल से जुड़े होते हैं और वह एक शूटिंग खिलाड़ी हैं और गोल्‍ड मेडल जीत चुकी हैं। घर चलाने के लिए वह नौकरी करती थीं।

किसान आंदोलन के दौरान बनाई पहचान

किसान आंदोलन में गाजीपुर बार्डर और फिर पंजाब बार्डर पर पूनम किसानों के साथ रहीं। इस आंदोलन के दौरान इलेक्ट्रानिक मीडिया व यूट्यूब पर पूनम ने अपने भाषणों से खास पहचान बनाई। पूनम के पिता विनोद पंडित का नौ साल पहले देहांत हो गया था। उनकी बहन पूजा पंडित व संध्या पंडित की शादी हो चुकी है। भाई पिंटू पंडित मेरठ में प्राइवेट कंपनी में नौकरी करतेे हैंं।

Edited By: Parveen Vashishta