मेरठ, जागरण संवाददाता। भारतीय जनता पार्टी के वार रूम में पहुंचते ही आप अखिलेश-मुलायम, शिवपाल यादव और नाहिद हसन के फोटो देखकर चौंक जाएंगे। दरअसल ये चुनावी लड़ाई का नया टूल है। अखिलेश और योगी सरकार के बीच 'फर्क साफ है' का गणित समझाते हुए यहां दर्जनों पोस्टर लगाए गए हैं। पूर्व सीएम अखिलेश यादव के कार्यकाल को जंगलराज बताते हुए सैफई महोत्सव का भी फोटो लगाकर सपा को घेरा गया है।

भाजपा ने खोला मीडिया सेंटर  

रविवार को विश्वविद्यालय रोड पर साकेत में भाजपा का मीडिया सेंटर खुला। यहां के वार रूम में लगे पोस्टरों को देख लोग चौंके, लेकिन फिर सबके चेहरे पर मुस्कुराहट आ गई। कोविड प्रोटोकाल में अभी रैलियों पर रोक है। ऐसे में भाजपा पोस्टर वार के माध्यम से भी सपा पर हमलावर है।

यहां लगे एक पोस्टर में अखिलेश और सीएम योगी हैं, जिसमें बताया गया है कि अखिलेश सरकार ने 10659 करोड़ रुपये गन्ना बकाया किया था, जिसका भुगतान योगी सरकार ने किया। सपा सरकार में 47.75 लाख, जबकि भाजपा सरकार में 98.27 लाख नए बिजली कनेक्शन देने की बात लिखी गई है।

अखिलेश के साथ गायत्री प्रजापति का फोटो

दूसरे पोस्टर में अखिलेश के साथ गायत्री प्रजापति का फोटो लगाकर बताया गया है कि सपा प्रमुख अपराधियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर 'चलते' थे। एक पोस्टर में मुलायम, शिवपाल और अपर्णा के चित्र लगाकर भाजपा ने बताया है कि 'जो पिता, चाचा, घर की बहू और रिश्तेदार का नहीं हुआ, वो यूपी का क्या होगा।' मुलायम सिंह की पुत्र वधू अपर्णा ने हाल ही में भाजपा का दामन थामा है। वार रूम में एक फोटो और है। इसमें चर्चित मुख्तार अंसारी को जीप के बोनट पर बैठे दिखाया गया है। कई और फाेेटो भी हैंं।  

Edited By: Parveen Vashishta