बागपत, जेएनएन। बागपत जिले के अमीनगर सराय के तितरौदा गांव में एक बुजुर्ग किसान की मकान के कमरे में बंधक बनाकर चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई। कमरे से 60 हजार रुपये नगद व अन्य सामान गायब है। स्वजन को आशंका है कि लूट के विरोध पर घटना को अंजाम दिया गया है। पुलिस कई बिंदुओं पर जांच कर रही है। घटना के बाद घरवाले भी दहशत में हैं।

लहूलुहान हालत में मिला शव

घटनाक्रम के अनुसारा ग्राम तितरौदा निवासी 66 वर्षीय किसान इलमसिंह पुत्र बनवारी सिंह बुधवार रात अपने मकान के कमरे में सो हुए थे। बरामदे में उनकी पत्नी कौशल्या देवी, पुत्रवधु आशा व पौत्र प्रांजल सोए हुए थे। गुरुवार सुबह पुत्रवधू आशा जागी तो कमरे में लहूलुहान हालत में ससुर इलमसिंह का शव मिला। उनके पैर बंधे हुए मिले। दूसरे कमरे में रखी अलमारी का सामान बिखरा मिला। शोर मचाने पर आस- पड़ोस के लोग एकत्र हो गए।

कई बिंदुओं पर जांच कर रही पुलिस

सूचना के बाद मौके पर पहुंचे सीओ अनुज मिश्रा ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। पुलिस ने किसान के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भेजा। महिला आशा ने बताया कि अलमारी से 60 हजार रुपये व अन्य सामान गायब हैं। आशंका है कि लूट के विरोध पर ससुर इलमसिंह की हत्या की गई है। वहीं डाग स्क्वायड और फ़ारेंसिक एक्सपर्ट ने घटनास्थल की जांच की। सीओ अनुज मिश्रा का कहना है कि इस मामले में कई बिंदुओं पर जांच की जा रही है। केस का जल्द ही राजफाश किया जाएगा।

हाईवे पर हादसे में किसान की मौत

बड़ौत में दिल्ली सहारनपुर हाईवे पर गुरुवार सुबह सात बजे ट्रक ने भैंसा बुग्गी में टक्कर मार दी, जिससे भैंसा बुग्गी पर बैठा किसान गंभीर रूप से घायल हो गया। लोगों ने किसान को चिंताजनक हालत में सीएससी पर भर्ती कराया। चिकित्सकों ने किसान को मृत घोषित कर दिया। इस हादसे में भैंसे को भी चोट आई है। गांव के लोगों का कहना है कि किसान घर से वह बुग्गी के लेकर खेत के लिए निकला था। हादसे के बाद चालक फरार हो गया। कोतवाल अजय कुमार शर्मा ने बताया कि हादसे में बावली गांव के निखिल पुत्र अशोक कुमार निवासी पट्टी गोपी की मौत हुई है। तहरीर के आधार पर हादसे का मुकदमा दर्ज किया जाएगा, शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया है। उधर, किसान के घर स्वजन में कोहराम मचा हुआ है।

Edited By: Prem Dutt Bhatt