सहारनपुर, जागरण संवाददाता। कांग्रेस छोड़ समाजवादी पार्टी में आए पूर्व विधायक इमरान मसूद के राजनीतिक भविष्य को लेकर संशय अभी भी बरकरार है। इमरान मसूद और विधायक मसूद अख्तर दोनों ने ही अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं। हालांकि इंटरनेट मीडिया पर इमरान मसूद को लेकर कभी सपा में ही रहने तो कभी बसपा में जाने की चर्चाएं वायरल होती रहीं। यह भी चर्चा है कि इमरान मसूद को मनाने की जिम्मेदारी अब सपा जिलाध्यक्ष चौधरी रुद्रसेन को सौंपी गई है।

पूर्व विधायक इमरान मसूद 11 जनवरी को कांग्रेस छोड़ सपा में शामिल हो गए थे मगर तीन दिन तक लखनऊ में रुकने के बावजूद पार्टी की ओर से जब विधानसभा चुनाव में उन्हें या उनके साथ सपा में गए विधायक मसूद अख्तर के लिए कोई सीट नहीं रखी गई तो ये लोग नाराज होकर वापस लौट आए थे। इसके बाद से ही इमरान मसूद को लेकर इंटरनेट मीडिया पर तरह-तरह की चर्चाएं चल रही हैं लेकिन इमरान मसूद अपने पत्ते नहीं खोल रहे हैं। बुधवार को इस तरह की भी चर्चाएं रहीं कि इमरान मसूद बसपा में शामिल हो रहे हैं और नकुड़ सीट से चुनाव लड़कर डा. धर्म सिंह सैनी से दो-दो हाथ करेंगे। दूसरी ओर सपा में टिकट न मिलने से नाराज एक अन्य दावेदार ने बुधवार को बसपा नेताओं के साथ फोटो शेयर कर इस बात के संकेत दिए कि बसपा के टिकट पर वह नकुड़ से प्रत्याशी होंगे।

चर्चाओं का बाजार गर्म

इसी बीच चर्चा है कि समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने सहारनपुर के जिलाध्यक्ष चौधरी रुद्रसेन को इमरान मसूद के संबंध में चर्चा करने के लिए लखनऊ बुलाया था। इस संबंध में चौधरी रुद्रसेन से बात की गई तो उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि इमरान मसूद मान जाएंगे। हाईकमान ने जो टिकट तय किए हैं, वह जस के तस रहेंगे लेकिन सरकार बनने की स्थिति में इमरान मसूद को पूरा सम्मान दिया जाएगा। अब देखना यह है कि इमरान मसूद सपा में ही रहेंगे अथवा अन्य दल में जाएंगे। इधर, सहारनपुर देहात सीट से कांग्रेस विधायक रहे मसूद अख्तर भी सपा में शामिल होने के बाद कहां से चुनाव लड़ेंगे, यह तय ही नहीं हो पा रहा है। सपा ने उनको टिकट नहीं दिया है, उधर सहारनपुर देहात सीट पर सपा के आशु मलिक ने मैदान संभाल लिया है। उनका दावा है कि उन्हें सिंबल देकर भेजा गया है। इससे मसूद अख्तर और भी परेशान हैं।

चंद्रशेखर का मसूद को न्यौता

इस बीच आजाद समाज पार्टी के मुखिया चंद्रशेखर ने कहा कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कई नेताओं के साथ ऐसा व्यवहार किया, जो नहीं करना चाहिए था। चंद्रशेखर ने कहा कि इमरान मसूद के साथ सपा में हो रहे व्?यवहार से वह भी नाखुश हैं। इमरान मसूद ने बेहद खराब स्थितियों में उनकी मदद की थी। वह इमरान मसूद से बात करेंगे और गरीबों, वंचितों, पिछड़ों की इस लड़ाई में साथ आने की अपील करेंगे।

यह भी पढ़ें: वायरल वीडियो में इमरान मसूद का झलका गुस्सा, कहा- मुसलमानों एक हो जाओ, तुम्हारी वजह से मुझे पैर पकड़ने पड़े, मेरा कुत्ता...

Edited By: Taruna Tayal