मेरठ, जेएनएन। हर घर को कोरोना मुकत करने की मुहिम में किए जा रहे कोविड-19 स्वास्थ्य सर्वे में जिले के स्कूलों का रिस्पांस काफी ढीला है। इसमें भी सीबीएसई-आइसीएसई स्कूलों की तुलना में यूपी बोर्ड के माध्यमिक स्कूलों की ओर से बेहद कम संख्या में बच्चों तक सर्वे को पहुंचाया जा सका है। माध्यमिक स्कूलों की तुलना में सीबीएसई स्कूलों से मिला रिस्पांस 16 गुना अधिक है। इसका अंदाजा जिले में स्कूलों द्वारा मिले कोविड-19 के सर्वे में रिस्पांस के डाटा से ही लगाया जा सकता है। कोविड- सर्वे में परिवारों का स्वास्थ्य डाटा मुहैया करने वाले टाप-10 सीबीएसई-आइसीएसई से कुल 12,319 परिवारों का स्वास्थ्य सर्वे डाटा मिला है। वहीं यूपी बोर्ड के माध्यमिक स्कूलों में सर्वे देने वाले स्कूलों में टाप-10 स्कूलों के महज 762 परिवारों का ही स्वास्थ्य सर्वे मुहैया कराया गया है। कंट्रोल रूम संचालक डा. मेघराज के अनुसार सोमवार 30 नवंबर तक स्कूलों में पढ़ रहे बच्चों के परिवारों से लिए जा रहे हेल्थ सर्वे में कुल 44,553 परिवारों का डाटा मिला है। इसमें से 669 परिवारों में खांसी, जुकाम, बुखार, नजला आदि लक्षण मिले हैं।

टाप-10 सीबीएसई स्कूल

दीवान पब्लिक स्कूल से सर्वाधिक 2,428 परिवारों का स्वास्थ्य डाटा जिला प्रशासन को मिला है। इसके बाद टाप-10 में सेंट मेरीज एकेडमी से 1,907 परिवार, आर्मी पब्लिक स्कूल से 1,903 परिवार, मेरठ पब्लिक स्कूल से 1,896, केंद्रीय विद्यालय पंजाब लाइंस से 1,138, सोफिया ग‌र्ल्स स्कूल से 1,003, सेंट पेट्रिक्स एकेडमी से 671, सेंट थॉमस इंग्लिश मीडियम स्कूल से 628, केंद्रीय विद्यालय डोगरा लाइंस से 436 और केंद्रीय विद्यालय सिख लाइंस से 309 परिवारों का हेल्थ डाटा मिला है। सीबीएसई-आइसीएसई स्कूलों के टाप-10 में छावनी के तीनों केंद्रीय विद्यालय भी शामिल हैं।

टाप-10 यूपी बोर्ड के स्कूल

यूपी बोर्ड के माध्यमिक स्कूलों में सबसे अधिक 198 परिवारों का स्वास्थ्य सर्वे रघुनाथ ग‌र्ल्स इंटर कालेज से मिला है। इसके बाद एएस इंटर कालेज मवाना से 103, एसएसडी ग‌र्ल्स बुढ़ाना गेट से 99, सरस्वती विद्या मंदिर से 97, महावीर शिक्षा सदन से 52, सुरेश देवी हेमचंद त्यागी सरस्वी शिशु मंदिर से 51, सेंट जोसेफ ग‌र्ल्स इंटर कालेज सरधना 47, सेंट चा‌र्ल्स इंटर कालेज सरधना से 40, सुशीला देवी ग‌र्ल्स इंटर कालेज 38 और सबसे अधिक छात्र संख्या वाले सनातन धर्म इंटर कालेज सदर से केवल 37 परिवारों का हेल्थ डाटा ही आया है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप