मेरठ, जागरण संवाददाता। UP Assembly Elections 2022 रालोद अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह सात दिसंबर को मेरठ में रैली करने आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि सपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी इसमें शामिल होंगे। हालांकि रालोद के वरिष्ठ नेताओं के साथ ही सपा के जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह ने इसपर अनभिज्ञता जताई है लेकिन, सपा के वरिष्ठ नेता अतुल प्रधान ने इस रैली व दोनों नेताओं के आने की पुष्टि की है।

फिलहाल चल रही वार्ता

सपा और रालोद गठबंधन कर विधानसभा चुनाव लडऩे की तैयारी में हैं। दोनों दलों के बीच संभावित गठबंधन की स्थिति में सीटों के बंटवारे को लेकर फिलहाल बातचीत भी चल रही है। इसी क्रम में तीन दिन पूर्व रालोद अध्यक्ष ने सपाध्यक्ष से मुलाकात भी की थी। अब संभावना जताई जा रही है कि सात दिसंबर को दोनों दलों के नेता मेरठ में संयुक्त रैली करेंगे।

कार्यकर्ता भीड़ जुटाएंगे

रालोद मुखिया जयंत सिंह की रैली पहले दो नवंबर को दबथुआ में प्रस्तावित थी, जिसकी तिथि अब बढ़ाकर सात दिसंबर कर दी गई है। राजनीतिक समीकरण और संभावित गठबंधन को लेकर चूंकि दोनों नेताओं की भेंट हो चुकी है इसलिए जो रैली रालोद पार्टी स्तर पर करने जा रही थी, उसे अब गठबंधन रैली का नाम दिया जा सकता है। इसमें दोनों दलों के प्रमुख नेता मौजूद रहेंगे और दोनों के ही कार्यकर्ता भीड़ जुटाएंगे।

बड़ी रैली करेंगे : अतुल

सपा नेता अतुल प्रधान ने गुरुवार रात बताया कि उन्होंने लखनऊ मुख्यालय से इसकी पुष्टि की है। सात दिसंबर को गठबंधन की संयुक्त रैली होगी। यह पश्चिमी उप्र की सबसे बड़ी रैली होगी। इसे अखिलेश यादव व जयंत सिंह संबोधित करेंगे।

अभी नहीं आई जानकारी : सपा जिलाध्यक्ष

सपा के जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह ने बताया कि सात दिसंबर को गठबंधन की संयुक्त रैली के संबंध में पार्टी से कोई संदेश अभी नहीं आया है। पता भी किया था लेकिन इस तरह की रैली के आयोजन की जानकारी के बारे में अनभिज्ञता जताई गई है। रालोद के जिलास्तरीय नेता भी इस रैली को लेकर अभी अनभिज्ञता जता रहे हैं। 

Edited By: Prem Dutt Bhatt