मेरठ, जेएनएन। आज के जमाने में ईमानदारी देखने को प्राय: कम ही मिलती है। जहां एक तरफ भ्रष्‍टाचार और लूटपाट का मामला हर दिन देखने को मिलता है वहीं अगर ईमानदारी का उदाहरण हमारे सामने दिख जाए तो यह किसी आश्‍चर्य घटना से कम नहीं है। ऐसा ही उदाहरण मेरठ में देखने को मिली है, जहां पर दो छात्रों ने 72 हजार रुपये पुलिस को लौटा दिया। दसवीं कक्षा के दो छात्रों को 72 हजार रुपये सड़क पर मिले थे। जिसे सीधे इन्‍होंने पुलिस को लौटा दिया। पुलिस ने भी बच्चों के इस व्यवहार की तारीफ की। साथ ही उन्हें सम्मानित करने की भी बात कही है।

इन जगहों के निवासी है छात्र

कंकरखेड़ा के लखवाया गांव निवासी अभिषेक चपराना पुत्र दर्शन और अभिषेक चपराना पुत्र सतपाल सिंह दसवीं कक्षा के छात्र हैं। अभिषेक ने बताया कि वह अपने चचेरे भाई अभिषेक चपराना के साथ सोमवार सुबह सैर पर गए थे। रोहटा रोड स्थित ग्रीनलैंड पब्लिक स्कूल के सामने उन्हें सड़क पर एक डिब्बा पड़ा मिला। खोलकर देखा तो इसमें सौ-सौ के नोट की पांच गड्डी के अलावा बीस, दस, 50 व 200 रुपये के नोट रखे थे। गड्डी पर एक पर्ची लगी थी, जिस पर हिमांशु और 72 हजार रुपये लिखा था। बच्चे नोटों का डिब्बा लेकर शोभापुर चौकी पहुंचे और सोते सिपाही को जगाकर डिब्बा उन्हें सौंप दिया।

भाजपा नेता ने लोगों की सराहना

सिपाही ने डिब्बा चौकी इंचार्ज सरजेश कुमार के माध्यम से कंकरखेड़ा थाने पहुंचवाया। बच्चों के चाचा भाजपा नेता तरुण चपराना व परिवार वालों का कहना है कि हर बच्चे में ऐसे ही संस्कार होने चाहिए। इंस्पेक्टर बीपी सिंह राणा ने बताया कि नोटों का डिब्बा सिपाही ने उन्हें सौंपा है। नोट किसके हैं, इसकी जानकारी कराई जाएगी। दोनों बच्चों को सम्मानित किया जाएगा।  

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस