मेरठ, जेएनएन। नवंबर महीने का अंत आते-आते डेंगू के नए मामले आने का सिलसिला भी धीमा पड़ गया है। सोमवार को जिले में डेंगू के महज दो नए मरीज मिले हैं। वहीं, दोनों ही मरीज ग्रामीण इलाकों में मिले हैं।

मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि अब तक जिले में शहरी क्षेत्र में डेंगू के 873 व ग्रामीण क्षेत्रों में 759 मरीज मिल चुके हैं। ग्रामीण क्षेत्र में मिले दो नए मरीजों में एक मरीज जानी और एक मरीज सरूरपुर में मिला है। जिले में अब तक सर्वाधिक 122 मरीज मलियाना और इसके बाद 121 कंकरखेड़ा में मिले हैं। ग्रामीण इलाकों में रोहटा में सर्वाधिक 99, दौराला में 96 मिले हैं। वहीं, बताया कि अब जिले में डेंगू के 98 एक्टिव मरीज हैं। इनमें 19 मरीज विभिन्न अस्पतालों में भर्ती हैं और 79 घर पर रहकर इलाज करा रहे हैं। अब तक 1534 रिकवर हो चुके हैं।

--

4422 सैंपलों की जांच में कोई संक्रमित नहीं

मेरठ : जिले में सोमवार को 4422 सैंपलों की जांच में कोई कोरोना संक्रमित नहीं मिला। सीएमओ डा. अखिलेश मोहन ने बताया कि अब जिले में कोरोना से ग्रसित दो सक्रिय मरीज हैं। दोनों घर पर रहकर इलाज करा रहे हैं।

आज भी 75 हजार टीके लगाने का लक्ष्य : जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा पिछले सप्ताह प्रतिदिन 75 हजार लक्ष्य के साथ टीके लगाने का प्रयास सफल रहा और छह दिन में करीब 1.74 लाख टीके लगे। विभाग ने कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के बीच जल्द से जल्द लक्षित आबादी को कम से कम पहला टीका लगाने के प्रयास तेज कर दिए हैं। जिसके तहत इस सप्ताह भी प्रतिदिन 75 हजार लक्ष्य के सात टीकाकरण की शुरुआत कर दी है। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. प्रवीण कुमार गौतम ने बताया कि मंगलवार को भी जिले में मेगा टीकाकरण अभियान के तहत 75 हजार टीके लगाने के लक्ष्य के साथ अभियान चलेगा। इस लक्ष्य को पाने के लिए जिले भर में 205 केंद्रों पर टीकाकरण अभियान चलेगा। कुल लक्ष्य में से कोवैक्सीन के 20560 टीके और कोविशील्ड के 54440 टीके उपलब्ध रहेंगे। वहीं, सोमवार को चले मेगा टीकाकरण अभियान में 75 हजार टीकों के लक्ष्य के सापेक्ष करीब 28532 लोगों को टीका लगा। कुल लक्षित 2549504 लोगों में से सोमवार तक 1961862 को पहला टीका लगाया जा चुका है। वहीं, पहली डोज लगवा चुके लोगों में से 1090056 को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है।

Edited By: Jagran