मेरठ, जेएनएन। असौड़ा हाउस में मिले एक कोरोना पॉजिटव केस के चलते दो किलोमीटर के क्षेत्र को सील कर दिया गया है। वहीं शिव चौक छीपी टैंक व्यापार मंडल के महामंत्री विष्णु दत्त पाराशर ने असौड़ा हाउस में मिले एक कोरोना पॉजिटव केस के चलते दो किलोमीटर के क्षेत्र में व्यापारिक गतिविधियों को प्रतिबंधित करने का विरोध किया है। बताया कि एक सप्ताह पहले असौड़ा हाउस कालोनी में एक केस मिला था।

नियमानुसार 250 मीटर का वह क्षेत्र जिसमें कोरोना मरीज मिला था सील होना चाहिए। असौड़ा हाउस मोहल्ले में कोई बाजार नहीं है। उसे सील करने की बजाए छीपी टैंक बाजार, पश्चिमी कचहरी रोड, पीएल शर्मा रोड, बेगमपुल मार्केट, भोपाल सिंह रोड, तिलक रोड, विजयनगर मोहल्ला, बच्चा पार्क से कचहरी कंपाउंड का क्षेत्र बंद कर दिया गया है।

अध्यक्ष प्रवीण त्यागी ने कहा कि लॉकडाउन में व्यापारी दुकान किराया, बिजली के बिल और कर्मचारियों को वेतन देने के बोझ तले दबा जा रहा है। उस पर मनमाने ढंग से बाजार बंद करने से व्यापारियों में रोष है। मांग की है कि उसी गली को सील किया जाए जहां मरीज मिला है। दूसरे क्षेत्र के बाजारों को खोला जाना चाहिए।

भराला व शारदा के सैंपल जांच को भेजे

श्रम कल्याण परिषद के अध्यक्ष सुनील भराला व उनके स्टाफ के 22 सदस्यों और भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ के विनीत अग्रवाल शारदा का सैंपल शनिवार को लिया गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम भराला के आवास पर गई जबकि विनीत शारदा ने खुद जिला अस्पताल जाकर सैंपल दिया। माना जा रहा है कि रविवार शाम तक इनकी रिपोर्ट आ जाएगी। गौरतलब है कि एक जून को प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया था। जिस वार्ड का निरीक्षण किया गया था, उसमें भर्ती कई मरीज की रिपोर्ट अगले दिन पॉजिटिव आई थी। इस दौरान मंत्री के साथ भराला और शारदा भी मौजूद थे।

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस