मेरठ, जेएनएन। स्टेट बैंक की मटौरा शाखा का कैश लूटने की कोशिश करने वाले 50 हजारी बदमाश को गुरुवार अपराह्न हस्तिनापुर रोड नहर पटरी पर स्वाट टीम व थाना पुलिस ने मुठभेड़ में घायल होने के बाद गिरफ्तार कर लिया। उसका साथी फरार हो गया। उसके कब्जे से 32 बोर की पिस्टल, चार कारतूस व पल्सर बाइक भी बरामद हुई। इससे पूर्व कैश की रेकी करने वाले 25 हजार के इनामी युवक को भी दबोच लिया।

यह है पूरा मामला

स्टेट बैंक मटौरा शाखा का 20 लाख रुपये कैश मंगलवार को बाइक सवार दो बदमाशों ने लूटने का प्रयास किया था। हालांकि गार्ड जन्म सिंह व बैंक कर्मी विनोद गोली लगने के बावजूद डटे रहे। वहीं, गाड़ी चालक अमित ने हिम्मत से काम लेते हुए बदमाशों को टक्कर मारकर गिरा दिया था। इसके चलते कैश लुटने से बच गया था। बदमाश फरार हो गए थे। स्वाट टीम के इंचार्ज तपेश्वर सागर व इंस्पेक्टर राजेंद्र त्यागी बदमाशों के पीछे लगे थे।

हत्‍या और लूटपाट की घटनाओं में शामिल

कैश की रेकी करने वाला 25 हजारी बदमाश अंकुर पुत्र सलेख निवासी मटौरा गुरुवार अपराह्न पुलिस के हत्थे चढ़ गया। इसी आधार पर हस्तिनापुर रोड पर चेकिंग के दौरान कैश लूट में शामिल बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़ हो गई। बदमाश सचिन उर्फ टीटू पुत्र ध्यान सिंह यादव निवासी सुराना, थाना मुरादनगर (गाजियाबाद) पैर में गोली लगने के बाद बाइक समेत गिर गया। उसका साथी योगेंद्र उर्फ मोनू पुत्र सुखबीर पता उपरोक्त फायर करते हुए भाग गया। पकड़ा गया बदमाश 50 हजारी है, जो हत्या व लूटपाट की घटनाओं में वांछित है। घायल बदमाश को सीएचसी से मेरठ रेफर कर दिया। सीओ यूएन मिश्रा ने फरार बदमाश को पकडऩे के लिए कांबिंग कराई लेकिन सुराग नहीं मिला। इस दौरान एसओ बहसूमा शिवदत्त व नवनियुक्त एसओ सतीश कुमार भी मौजूद रहे।

दिल्ली से 60 लाख की लूट में भी वांछित है सचिन

दिल्ली के रोहिणी से 60 लाख रुपये की लूट समेत हत्या व अन्य मामलों में सचिन काफी समय से वांछित चल रहा है। दो माह फरारी काटने के लिए मटौरा आया हुआ था। उसका दूसरा साथी भी पास के ही गांव में फरारी काट रहा था। खर्च चलाने के लिए बड़ी रकम की आवश्यकता थी। बदमाशों को बैैंक का 40 लाख रुपये कैश मिलने की उम्मीद थी। सचिन पिस्टल का सप्लायर भी है। अब तक 50 से अधिक पिस्टल मवाना समेत आसपास बेच चुका है।

बैंक के कैश लूट के प्रयास का मुख्य आरोपित 50 हजारी बदमाश गिरफ्तार कर लिया। दूसरा फरार साथी भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। वहीं, रेकी करने का आरोपित भी पकड़ा गया। -यूएन मिश्रा, सीओ मवाना।  

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस