मेरठ,जेएनएन। मेरठ सहित पूरे दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में बुधवार की सुबह करीब आठ बजे अचानक भूकंप के झटके महसूस किए गए। लोगों में अफरातफरी मच गई। कुछ क्षेत्रों में लोग दहशत के चलते घरों से बाहर निकल गए। भूकंप का केंद्र बागपत बताया गया है। रिक्‍टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 4.0 आंकी गई है।
दहशत में घरों से बाहर निकले लोग
अचानक भूकंप के झटके महसूस होने से मेरठ, बुलंदशहर, बिजनौर, बागपत, मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद आदि स्थानों पर लोग अपने-अपने घरों से बाहर निकल गए। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार भूकंप का एपिसेंटर जमीन के छह किलोमीटर नीचे था। हालांकि किसी भी स्थान से किसी भी प्रकार के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है।

बागपत था भूकंप का केंद्र 
मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार सुबह आठ बजे आए इस भूकंप का केंद्र बागपत था। बुधवार की सुबह मौसम खराब होने के कारण बारिश हो रही थी,बारिश के बीच भूकंप के झटके महसूस होने पर लोग घरों से बाहर आ गए थे। गौरतलब है कि बुधवार की सुबह सिर्फ दिल्ली-एनसीआर ही नहीं बल्कि दुनिया के कई हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। तजाकिस्तान और अमेरिका के कई हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किए गए। अमेरिका में 3.7 रिक्टल स्केल की तीव्रता का भूकंप महसूस किया गया।
हाथ से गिर गया चाय का कप
बागपत जिले के खेकड़ा,बड़ौत,छपरौली,अमीनगर सराय,बिनौली आदि क्षेत्रों में भूकंप के झटकों के बाद दहशत में लोग घरों से बाहर निकल आए। सुबह चाय पी रहे लोगों के हाथ से चाय का कप गिर गया,तो कोई कुर्सी से नीचे गिर गया। नगर में फल की ठेली लगाने वाले आरिफ ने बताया कि सुबह जब वह ठेली पर फल लगा रहा था। तभी उसे भूकंप का झटका महसूस हुआ,जिससे उसके सारे फल नीचे गिर गए। वहीं झंकार गली निवासी सतेन्द्र ने बताया कि सुबह जब वह चाय पी रहा था,तो तब भूकंप का झटका लगा। इससे उसका चाय का कप नीचे गिर गया। बुजुर्ग शिवपाल ने बताया कि भूकंप का झटका लगने से वह कुर्सी से नीचे गिर गए। 
डीएम बोले जनहानि की कोई सूचना नहीं 
डीएम पवन कुमार ने बताया कि अभी तक जनहानि की कोई सूचना नहीं मिली है। सभी एसडीएम को अपने-अपने क्षेत्र में जाकर भूकंप के प्रति लोगों को सचेत करने के निर्देश दिए गए है।

Posted By: Ashu Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप