बुलंदशहर, जेएनएन। औरंगाबाद क्षेत्र के गांव मोड़ी बकापुर में बुधवार को प्राइमरी स्कूल में हैंडपंप पर पानी पीने के लिए गई एक किशोरी दीवार गिरने से गंभीर रूप से घायल हो गई। घायल को स्वजन और ग्रामीण लखावटी सीएचसी ले गए। जहां डॉक्टरों ने उस किशोरी को मृत घोषित कर दिया। इस घटना से परिवार में कोहराम मच गया। गांव में इस घटना से सन्‍नाटा छाया रहा।

गांव मोड़ी बकापुर निवासी ज्ञान चंद जाटव की 13 वर्षीय पुत्री भावना बुधवार को प्राइमरी स्कूल में हैंडपंप पर पानी पीने के लिए गई थी। इस दौरान ही स्कूल की चारदीवारी उक्त किशोरी के ऊपर आ गिर पड़ी जिसमें किशोरी गंभीर रूप से घायल हो गई। घायल अवस्था में किशोरी को स्वजन और ग्रामीण लखावटी सीएचसी मैं ले गए जहां डॉक्टरों ने भावना को मृत घोषित कर दिया। उधर मृतक किशोरी के स्वजनों ने ठेकेदार द्वारा कराई गई चारदीवारी मैं घटिया सामग्री लगाए जाने का आरोप लगाते हुए हंगामा खड़ा कर दिया उधर हादसे की सूचना पर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों को समझा कर शांत किया। पुलिस ने मृतक किशोरी के सब को अपने कब्जे में ले लिया इस दौरान मृतक किशोरी के स्वजनों ने किशोरी का परीक्षण कराने से मना कर दिया जिसके बाद पुलिस ने मृतक किशोरी के शव को स्वजन और ग्रामीणों की सुपुर्दगी में दे दिया है।

उधर इसी मामले में सूत्रों के हवाले से पता चला है कि जिस ठेकेदार द्वारा स्कूल की चारदीवारी बनवाई गई थी उसी ठेकेदार से मृतक किशोरी की स्वजनों की फैसले के संबंध में वार्ता चल रही है। लेकिन थाना प्रभारी योगेंद्र सिंह मलिक ने बताया कि फैसले का मामला मेरी संज्ञान में नहीं है फिलहाल मृतक के स्वजनों ने सब का परीक्षण कराए जाने से इंकार कर दिया है जिसके बाद मृतक किशोरी के शव को ग्रामीण वह इसके स्वजनो की सुपुर्दगी में दे दिया गया है। 

Edited By: Himanshu Dwivedi