सहारनपुर, जेएनएन। Drug Smugglers News सरसावा थाना पुलिस और एसओजी टीम को बुधवार को बड़ी सफलता हाथ लगी है। दोनों टीमों ने संयुक्त रूप से एक महिला समेत तीन नशा तस्करों को गिरफ्तार किया है। तीनों के कब्जे से लगभग एक करोड़ की स्मैक बरामद हुई है। तीनों लोग बरेली जनपद के रहने वाले हैं और पिछले काफी समय से पश्चिम उत्तर प्रदेश में स्मैक की तस्करी कर रहे थे। एसएसपी ने दोनों टीमों को 25 हजार का इनाम दिया है।

वाहनों की चेकिंग के दौरान पकड़ा

पुलिस लाइन के सभागार में प्रेस वार्ता के दौरान एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि सरसावा थाना क्षेत्र के गांव झबीरण के समीप सरसावा थाना प्रभारी धर्मेंद्र सिंह, एसओजी प्रभारी जयवीर सिंह वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। उसी समय एक टाटा जेस्ट कार आई और पुलिस को देखकर भागने लगी। एसओजी ने कार पर गोली चला दी। जिससे कार का टायर फट गया और कार रुक गई। जिसके बाद कार में से एक महिला समेत तीन लोगों को पकड़ा गया। तीनों के पास से 566 ग्राम स्मैक, दो तमंचे बरामद हुए।

इन जिलों में करते थे सप्‍लाई

पूछताछ में आरोपितो ने अपने नाम आसिफ पुत्र जमील अहमद अंसारी निवासी ग्राम खैलम थाना अलीगंज, फिरोज अहमद पुत्र अब्दुल गनी निवासी मोहल्ला सैदपुर निकट हॉकिंस स्कूल थाना इज्जत नगर जिला बरेली और नजमा पत्नी आसिफ उर्फ बबलू निवासी गांव खायनम थाना अलीगंज जनपद बरेली बताएं। तीनों आरोपियों ने पूछताछ के दौरान बताया कि वह बरेली से स्मैक लाकर पश्चिम उत्तर प्रदेश के सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, मेरठ, शामली आदि जिलों में सप्लाई करते हैं। इसके अलावा हरियाणा के यमुनानगर पानीपत हिसार और पंजाब के भी कई जिलों में सप्लाई करते हैं। पकड़े गए आरोपी तो के दो साथी फरार होने में कामयाब हो गए, जो सरसावा थाना क्षेत्र के गांव झबीरण के रहने वाले हैं। 

Edited By: Prem Dutt Bhatt