मेरठ, [अभिषेक कौशिक]। गुरुवार को जहां एक ओर तेजाब पीडि़ता को इंसाफ मिल रहा था, वहीं दूसरी ओर एक अन्य शिक्षिका भी न्याय की गुहार लगा रही थी। मनचलों के आतंक के चलते वह कालेज भी नहीं जा रहीं हैं। दुस्साहसी मनचले उन पर तेजाब फेंकने की धमकी दे रहे हैं। विरोध करने पर आरोपितों ने पिता और भाई पर हमला भी कर दिया। इस सबके बावजूद पुलिस ने रिपोर्ट तक दर्ज नहीं की। अब पीडि़ता ने एसएसपी से न्याय की गुहार लगाई है।

यह है मामला 

मवाना निवासी पीडि़ता ने बताया कि वह क्षेत्र के ही एक कालेज में शिक्षिका है। काफी समय से क्षेत्र के ही दो भाई उसे परेशान कर रहे हैं। दोस्ती करने का दबाव बनाते हैं। कहीं भी जाती है, तो उसका पीछा करते हैं। इसके चलते ही स्कूल जाने से भी डरने लगी है। पीडि़ता ने बताया कि 11 जनवरी को वह बाजार गई थी। आरोपितों ने उसका पीछा किया। भरे बाजार छेड़छाड़ की। विरोध करने पर आरोपितों ने अपने साथियों के साथ शिक्षिका के घर में घुसकर हमला कर दिया। पीडि़ता के पिता और भाई को लहूलुहान कर दिया। हमले में पिता के पैर की हड्डी भी टूट गई थी। पुलिस से शिकायत की तो कुछ नहीं हुआ। गुरुवार को शिक्षिका एसएसपी कार्यालय में शिकायत की। दिवस अधिकारी एसपी क्राइम राम अर्ज ने थाना पुलिस को कार्रवाई करने का निर्देश दिया। साथ ही पीडि़ता को सुरक्षा का भरोसा दिलाया।

सेट‍िंग कर छोड़ दिए थे आरोपित

स्वजन ने बताया कि हमले की रात उन्होंने पुलिस से शिकायत की थी, तो दोनों आरोपित भाइयों को पकड़ लिया था। पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए भेज दिया था। रात में सेट‍िंग कर पुलिस ने दोनों आरोपितों को छोड़ दिया था। पुलिस के रवैये के चलते ही आरोपितों के हौसले बुलंद हैं।

समझौते के बाद भी कर रहे परेशान

स्वजन ने बताया कि एक पखवाड़े पूर्व दोनों पक्षों के लोगों की पंचायत भी हुई थी। इसमें आरोपितों ने हाथ जोड़कर माफी मांग ली थी। साथ ही छेड़छाड़ नहीं करने की बात कही थी, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। आरोपितों ने बेटी से छेड़छाड़ की और विरोध करने पर घर में घुसकर हमला भी कर दिया था। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021