मेरठ, जेएनएन। सैन्य क्षेत्र के फैमिली क्वार्टर को बम से उड़ाने की धमकी भरा पत्र मिलने से हड़कंप मच गया। सेना के अफसरों ने पत्र को गोपनीय तरीके से एसपी सिटी को सौंप दिया हैं, जिसकी सर्विलांस सेल को जांच दी गई। पत्र पर दो मोबाइल नंबर लिखे हैं, जो करनाल (हरियाणा) में चल रहे हैं। जांच में उनका पिछले एक माह में मेरठ से कोई लिंक नहीं जुड़ रहा है। मामला सेना का होने के कारण एसटीएफ को भी जांच में लगाया गया है।सैन्य क्षेत्र में एक संदिग्ध पत्र मिला। जिसमें लिखा है कि सैन्य क्षेत्र के फैमिली क्वार्टर को बम से उड़ा दिया जाएगा। पत्र में दो व्यक्तियों के नाम और मोबाइल नंबर लिखे हैं। जिनका आतंकियों से कनेक्शन बताया गया है, जिनके मंसूबे खतरनाक है। ऐसे में इन दोनों व्यक्तियों की जानकारी सीनियर अफसरों को दी जाए। पत्र मिलने के बाद सेना के अफसरों ने सोमवार को एसएसपी अजय साहनी से संपर्क किया।

उन्होंने एसपी सिटी विनीत भटनागर को मामले की जानकारी दी। इसके बाद सेना के अफसर पत्र को लेकर पुलिस अधीक्षक सिटी के घंटाघर स्थित कार्यालय पहुंचे और पत्र की जांच कराने की मांग की। पुलिस अधीक्षक सिटी ने सर्विलांस टीम को आफिस बुलाकर पत्र सौंप दिया है। पत्र में लिखे मोबाइल नंबरों की जांच की गई है। यह भी पड़ताल की गई कि एक महीने में उक्त नंबर का मेरठ से कोई कनेक्शन हुआ है या नही।

यह भी पढ़ें: बुलंदशहर में दर्दनाक हादसा : ट्रक और वैन की जोरदार टक्‍कर में चार प्रवासी मजदूरों की मौत, दो गंभीर घायल

एसपी सिटी विनीत भटनागर ने कहा- सेना के अफसरों की तरफ से मिले संदिग्ध पत्र की जांच की जा रही है। पत्र पर जो मोबाइल नंबर लिखे थे, वह करनाल (हरियाणा) में चल रहे है। ऐसे में हरियाणा पुलिस से भी संपर्क किया जा रहा है। अभी तक की जांच में उक्त दोनों नंबरों का मेरठ से कोई जुड़ाव नहीं मिला है। पत्र में लिखे नामों की भी पड़ताल की जा रही है। जांच में पत्र फर्जी लग रहा है। 

यह भी पढ़ें: बुलंदशहर में नकली शराब पीने से दो की मौत- एक की हालत गंभीर, डीएम समेत कई अफसर मौके पर पहुंचे

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप