मेरठ,जेएनएन। गढ़ रोड पर होटल हारमनी इन के सामने दवा व्यापारी की बाइक डिवाइडर के बीच खड़े खंभे से टकरा गई। सिर डिवाइडर पर लगने से व्यापारी घायल हो गए। उपचार के दौरान मधु नर्सिग होम में उनकी मौत हो गई। परिवार के लोगों ने पोस्टमार्टम कराने के बाद शव का अंतिम संस्कार कर दिया।

शास्त्रीनगर के रहने वाले 35 वर्षीय धीरज आहूजा की खैरनगर में आहूजा मेडिसिन एजेंसी के नाम से दुकान है। शनिवार रात वे दुकान बंद करके खैरनगर से घर लौट रहे थे। होटल हारमनी इन के सामने स्कूटर सवार युवक भी सड़क पर गिरा पड़ा था। धीरज उस युवक को देखने लगे। तभी बाइक से उनका नियंत्रण खो गया। उनकी बाइक डिवाइडर पर खड़े खंभे से टकरा गई। पुलिस ने आसपास के लोगों की मदद से धीरज को मधु नर्सिग होम में भर्ती कराया, जहा उपचार के दौरान चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। रविवार दोपहर पोस्टमार्टम के बाद उनका अंतिम संस्कार किया गया। थाना प्रभारी जितेंद्र कुमार ने बताया कि धीरज ने हेलमेट नहीं पहना था। यदि वे हेलमेट पहने होते तो उनकी जान बच सकती थी।

सात साल पहले हुई थी शादी

दवा व्यापारी की मौत से परिवार में कोहराम मच गया। सात साल पहले धीरज की शादी शास्त्रीनगर की रहने वाली रिचा से हुई थी। परिवार में एक बेटी और बेटा है। धीरज की मौत से रिचा को गहरा सदमा लगा है।

युवक ने जहरीला पदार्थ निगला, मौत

: कस्बा के मोहल्ला गांधी नगर निवासी युवक ने शनिवार रात गृह क्लेश के चलते जहरीला पदार्थ निगल लिया था। शनिवार रात युवक की उपचार के दौरान मौत हो गई है।

मोहल्ला गांधी नगर निवासी 35 वर्षीय दीपक पुत्र पप्पू ने शनिवार रात जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया था। स्वजन ने उसे आनन-फानन में मेरठ के एक निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया गया था। सूचना पर पुलिस भी मैके पर पहुंच गई थी। कुछ घंटों बाद युवक की उपचार के दौरान मौत हो गई है। हल्का प्रभारी हिमाशु मिश्रा ने बताया कि शनिवार रात युवक ने गृह क्लेश के चलते जहरीला पदार्थ के सेवन कर लिया था। पुलिस को भेजकर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया था। हालांकि, रविवार शाम तक किसी की ओर से कोई तहरीर नहीं मिली है।

Edited By: Jagran