मेरठ/ मुजफ्फरनगर, जेएनएन।

मुजफ्फरनगर के मीरापुर कस्बे में एक विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उसका शव फंदे पर लटका मिला। मेरठ निवासी मायके वालों ने दहेज के लिए हत्या करने का आरोप लगाते हुए पति समेत आठ के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया है।

मीरापुर के मोहल्ला कोटला दरबार निवासी गोपाल वर्मा पुत्र राजेश वर्मा की शादी दो वर्ष पूर्व मेरठ के ट्रांसपोर्ट नगर स्थित कालिंदी कालोनी निवासी अनिल की पुत्री आरती से हुई थी। गुरुवार सुबह करीब आठ बजे गोपाल अपनी दुकान पर चले गए। आरती घर पर अकेली थी। करीब 10 बजे गोपाल किसी काम से घर आए तो देखा कि कमरे में आरती का शव फंदे पर लटका था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव नीचे उतरवाकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। वहां पहुंचे आरती के मायकेवालों ने ससुरालियों पर हत्या का आरोप लगाकर हंगामा किया। पुलिस से भी नोकझोंक हुई। मृतका के भाई विकास वर्मा ने आरती के पति गोपाल, सास रश्मि, ससुर राजेश वर्मा, चचेरे ससुर नवीन वर्मा, ताऊ अनिल वर्मा, ननद शिवानी, मोहिनी व चंचल के विरुद्ध दहेज में स्विफ्ट डिजायर कार की मांग, शारीरिक-मानसिक उत्पीड़न करने व मांग पूरी न होने पर हत्या करने की तहरीर दी। इंस्पेक्टर संतोष त्यागी ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। सभी आरोपित फरार हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद अगली कार्रवाई की जाएगी।

खुशी का माहौल मातम में बदला

बुधवार को गोपाल ने कस्बे में अपनी ज्वेलरी की दुकान का शुभारंभ किया था। परिवार में खुशी का माहौल था लेकिन आरती की मौत के बाद खुशियां गम में बदल गई।

एक साल की बच्ची का बुरा हाल

अनिल ने अपनी इकलौती बेटी आरती की शादी धूमधाम से की थी। गोपाल भी अपने माता-पिता का इकलौता बेटा है। दोनों के एक साल की बेटी है। मां की मौत से बच्ची का रो-रोकर बुरा हाल है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021