मेरठ, जागरण संवाददाता। वेस्ट एंड रोड स्थित सनातन धर्म इंटर कालेज सदर में छात्रों से अवैध वसूली के विरोध में शिक्षक संघ के नेतृत्व में मंगलवार को शिक्षकों व छात्रों ने जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर धरना दिया। धरने दौरान स्कूल पर कार्रवाई की मांग की।

पीटीए के नाम पर वसूली

शिक्षक नेता चौधरी नरेश पाल सिंह, मीनाक्षी, मनोज कुमार, संजीव कुमार, विजय सिंह, सचिन मलिक, शरद बालियान, वीरेंद्र सिंह गांधी व सुभाष के नेतृत्व में मंगलवार को सुबह छात्र जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर पहुंचे। साथ ही शिक्षक व छात्र धरना देकर बैठ गए। उनका कहना था कि विद्यालय में पीटीए के नाम पर छात्रों से अवैध वसूली की जाती है। यह अवैध वसूली प्रति छात्र ढाई हजार से 3500 तक की जाती है।

इसके अलावा साइकिल स्टैंड पर 450 छात्रों से प्रति माह लिए जाते हैं। उनका यह भी आरोप था कि शिक्षक मनोज कुमार सिंह ने पीटीए का विरोध किया जिस पर गत 16 नवंबर को विद्यालय प्रबंध तंत्र ने उनको निलंबित कर दिया।

कक्षा में नहीं पढ़ाते शिक्षक

प्रबंध तंत्र का यह आरोप है कि शिक्षक क्लास में पढ़ाते नहीं है। जबकि उनका परीक्षा परिणाम 100 प्रतिशत रहता है।

दूसरे सीसीटीवी कैमरे से भी कक्षा में पढ़ाने की जानकारी मिल सकती है। उनका यह भी आरोप है कि इस बारे में जिला विद्यालय निरीक्षक राजेश कुमार को कई बार अवगत कराया जा चुका है। लेकिन उन्होंने स्कूल प्रबंध तंत्र के खिलाफ कोई कार्रवाई अभी तक नहीं की है। उन्होंने मांग की कि छात्रों से हर साल की जाने वाली लाखों रुपए की अवैध वसूली को तत्काल बंद किया जाए, जिन छात्रों से फीस ली गई है उसे वापस किया जाए।

इसके अलावा छात्रवृत्ति की धनराशि को छात्रों से वापस लिया जाता है, उसको भी दिलाया जाए। उन्होंने कार्रवाई न होने पर इस मामले में बेमियादी आंदोलन की चेतावनी दी।

Edited By: Taruna Tayal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट