जागरण संवाददाता, मेरठ : पुलिस लाइन में शनिवार को एसएसपी ने सभी थानाध्यक्ष की बैठक ली। इस क्राइम मीटिंग में एसपी से लेकर सीओ तक शामिल रहे। खास बात यह रही है कि चौकी इंचार्ज को भी इसमें बुलाया गया था। इस दौरान एसएसपी ने एनकाउंटर करने वाले पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया। इसके अलावा कई थानाध्यक्ष को विवेचना लंबित होने पर फटकार पड़ी।

एसएसपी मंजिल सैनी ने क्राइम मीटिंग में सभी थानाध्यक्षों को निर्देश दिया कि इनामी अपराधियों को पकड़कर जेल भेजा जाए। पूरी क्राइम मीटिंग में बहू-बेटियों पर होने वाले अपराध को लेकर फोकस रहा। एसएसपी खुद महिला हैं, इसलिए उन्होंने साफ तौर पर भावनपुर वाली घटना का उदाहरण देते हुए कहा कि महिलाओं पर अपराध बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इसके अलावा थानाध्यक्षों को लंबित विवेचना को लेकर भी फटकार लगाई गई। कहा कि बड़े अपराध में जल्द से जल्द जांच पूरी करके चार्जशीट दी जाए। साथ ही छोटे अपराध में भी विवेचना को जल्द पूरा किया जाए।

एसएसपी ने क्राइम मीटिंग में दिनदहाड़े हुई मुठभेड़ में बदमाशों को पकड़ने में अहम भूमिका निभाने वाले ट्रैफिक कांस्टेबल अरविंद व होमगार्ड वसीम को सम्मानित किया। इसके अलावा लूट की वारदात खोलने को लेकर आपरेटर संजीव कुमार को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

By Jagran