मेरठ, जेएनएन। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को लखनऊ के अमौसी हवाई अड्डे पर रोके जाने के विरोध में सपा कार्यकर्ताओं का आक्रोश फूट पड़ा। समाजवादी पार्टी के गुस्साए कार्यकर्ताओं ने जिला अध्यक्ष राजपाल सिंह के नेतृत्व में मेरठ कलक्ट्रेट पर धरना दे दिया। मुख्यमंत्री का पुतला फूंकने पर सपा कार्यकर्ताओं की पुलिस से भिड़ंत हो गई।
जबरन रोका गया
सपाइयों ने कहा कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्र संघ के कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि जा रहे पूर्व मुख्यमंत्री को लखनऊ के अमौसी हवाई अड्डे पर जबरन रोका गया। मुख्य विपक्षी पार्टी के बड़े नेता को इस प्रकार कार्यक्रम में जाने से रोकना उत्तर प्रदेश सरकार की तानाशाही एवं हिटलरशाही को साबित करता है। वह इसे बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने इसका मुंहतोड़ जवाब देने की चेतावनी दी।

पुतला फूंकने को लेकर पुलिस से भिड़े
अतुल प्रधान व अन्य सपा नेताओं की पुतला फूंकने को लेकर पुलिस से भिड़ंत हो गई। सपा जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह एडवोकेट के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल के नाम ज्ञापन अपर नगर मजिस्ट्रेट को दिया। परविंदर सिंह, सुमन अवधिया, जानू चौधरी, शरीफ खान, जीशान अली, शाहिद अफरीदी, शहजाद अब्बासी आदि शामिल रहे। उधर, धरने को देखते हुए कलक्ट्रेट को छावनी बना दिया गया। कई थानों की पुलिस कलक्ट्रेट आ गई।

Posted By: Ashu Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप