मेरठ, जागरण संवाददाता। मेरठ में सोतीगंज में वाहनों का कमेला बंद होने के बाद सहारनपुर, मुजफ्फरनगर और हापुड़ में नया सोतीगंज खुल गया है। वेस्ट यूपी और एनसीआर तथा दिल्ली से वाहन चोरी कर इन जनपदों में खपाए जा रहे हैं। सिविल लाइन पुलिस की गिरफ्त में आए वाहन चोरों के गैंग ने इसका पर्दाफाश किया है। सहारनपुर के ढोलीखाल में वाजिद और मुजफ्फरनगर में कबाड़ी कमाल के यहां तथा हापुड़ में भी वाहनों का कटान किया जा रहा है। पकड़े गए आरोपितों ने मेरठ में आइजी आफिस के आसपास से पांच वाहन चोरी करना कबूल किया है। उन्होंने उक्त वाहनों को मुजफ्फरनगर और सहारनपुर में कटान होना बताया है।

चार से पांच चोरी

सिविल लाइन थाना क्षेत्र में आइजी आफिस के आसपास से पिछले 15 दिन में पांच चार पहिया वाहन चोरी हो चुके हैं। इनका मुकदमा सिविल लाइन थाने में दर्ज है। मामला एसएसपी प्रभाकर चौधरी तक पहुंचा। तब देखा गया कि सोतीगंज में वाहनों का कटान बंद होने के बाद भी वाहन चोरी होकर कहां जा रहे हैं। सर्विलांस टीम और सिविल लाइन पुलिस को संयुक्त रूप से लगाया गया।

चार कबाड़ियों को पकड़ा

दोनों टीमों ने कार्रवाई करते हुए सहारनपुर के वाजिद और मुजफ्फरनगर के कमाल समेत चार कबाडिय़ों को पकड़ लिया है। पकड़े गए कबाडिय़ों ने बताया कि सहारनपुर के ढोलीखाल, मुजफ्फरनगर और हापुड़ में नया सोतीगंज खोल दिया गया है। वेस्ट यूपी, एनसीआर और दिल्ली से वाहन चोरी करने के बाद इन जनपदों में कटान हो रहा है। पकड़े गए आरोपितों ने बताया कि मेरठ से चोरी हुए पांच वाहनों को सहारनपुर और मुजफ्फरनगर में कटान करा चुके हैं।

एडीजी और आइजी ने कप्तानों को दी हिदायत

सोतीगंज बंद कराने की कार्रवाई पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी सीएम योगी आदित्यनाथ और पुलिस प्रशासन की पीठ थपथपा चुके हैं। मुख्यमंत्री ने भी स्पष्ट कर दिया कि मेरठ जोन में दूसरा सोतीगंज नहीं बन पाए। वाहन चोर गैंग के पर्दाफाश होने के बाद एडीजी और आइजी ने भी तीनों जनपदों के कप्तानों को कटान पूरी तरह रोकने के आदेश जारी कर दिए हैं। स्पष्ट कर दिया कि नया सोतीगंज मेरठ जोन में कदापि नहीं बनने दिया जाएगा।

सोतीगंज का कनेक्शन ढूंढ रही पुलिस

एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि मुजफ्फनगर, सहारनपुर और हापुड़ में होने वाले वाहन कटान में सोतीगंज के कबाडिय़ों का कनेक्शन भी ढूंढा जा रहा है। देखा जा रहा है कि कबाड़ी सोतीगंज के बजाय दूसरे जनपदों में तो धंधा नहीं कर रहे हैं। पकड़े गए गैंग के कनेक्शन भी सोतीगंज के कबाडिय़ों से देखे जा रहे है। एसपी सिटी ने बताया कि पकड़े गए वाहन चोरों से वाहन और उपकरण बरामद करने की प्रक्रिया तेजी से चल रही है।

सदर थाने में फोरेंसिक टीम ने डाला डेरा, इंजन जांचे

मेरठ : सोतीगंज में दुकान और गोदामों से मिले इंजन की पड़ताल के लिए फोरेंसिक टीम ने थाना सदर बाजार में डेरा डाल दिया है। पकड़े गए सभी वाहनों के इंजन की जांच की जा रही है। कुछ इंजन से फोरेंसिक टीम को असली नंबर मिल गए हैं। इंजन नंबरों से पुलिस देख रही है कि वाहन कहां से चोरी किए गए हैं। इसके बाद कबाडिय़ों को उन चोरी के मुकदमों में भी आरोपित बनाया जाएगा। सोतीगंज में हाजी गल्ला, इकबाल, शमशुद्दीन समेत कई कबाडिय़ों के गोदामों और दुकानों से पुलिस करीब 50 इंजन थाने में जमा करा चुकी है। सोमवार को गाजियाबाद के निवाड़ी से फोरेंसिक टीम को सदर बाजार थाने बुलाया गया। एएसपी सूरज राय ने बताया कि सोतीगंज के सभी दुकानदारों को स्क्रैप खाली करने के आदेश दिए हैं। सोमवार को बड़ी संख्या में दुकानदारों ने स्क्रैप खाली करने का काम तेजी से किया। हाजी मुस्ताक और आबिद टायर वाले ने भी सामान खाली करने की कवायद शुरू कर दी है।

Edited By: Prem Dutt Bhatt