मेरठ, जेएनएन। भाइयों के बीच हुए झगड़े में ताबड़तोड़ फाय¨रग हुई, जिससे बाजार में अफरा-तफरी मच गई। व्यापारियों ने दुकानें बंद कर दीं। पैर में गोली लगने से रिक्शा चालक घायल हो गया। पुलिस ने रिक्शा चालक का उपचार कराया और तीन लोगों को हिरासत में ले लिया। घटनास्थल पर पुलिस तैनात कर दी गई है। पिलोखड़ी का पुल तिर्खापुरी निवासी इस्लामुद्दीन और शमसुद्दीन भाई हैं।

पिलोखड़ी रोड पर फलक पैलेस के पास दोनों की फर्नीचर की अलग-अलग दुकान है। आठ दिन पहले शमसुद्दीन का बेटा समीर सेल्फी ले रहा था। इसी बीच इस्लामुद्दीन के धेवते दानिश ने उसका मजाक उड़ा दिया, जिस पर दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए थे। रविवार को दोनों पक्ष अपनी दुकान पर बैठे थे। दोपहर बाद उनमें कहासुनी हो गई।

दानिश, इमरान, नदीम, जावेद, आबिद और शमसुद्दीन, समीर और तीन-चार अज्ञात लोगों में मारपीट शुरू हो गई। लाठी-डंडे चलने लगे। फायरिंग होने से भगदड़ मच गई। व्यापारियों ने दुकानें बंद कर दी। इस दौरान वहां से गुजर रहे मलियाना निवासी रिक्शा चालक सतवीर के पैर में गोली लग गई। पुलिस ने शमसुद्दीन, इस्लामुद्दीन और समीर को हिरासत में ले लिया। दोनों पक्षों ने तहरीर दी है। थाना प्रभारी प्रशांत कपिल ने बताया कि जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस