सहारनपुर, जेएनएन। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों द्वारा मारे गए सहारनपुर के रहने वाले सगीर के परिवार वालों ने सांसद फजलु रहमान के साथ डीएम से मुलाकात की। डीएम से परिवार ने मुआवजे की मांग की। सगीर के बेटे जहांगीर ने डीएम से गुहार लगाई कि अब उनके परिवार में कोई भी कमाने वाला नहीं है। इसलिए परिवार की मदद की जाए। हालांकि प्रार्थना पत्र में मुआवजे की राशि नहीं खोली गई है।

यह है मामला

सहारनपुर के कुतुबशेर थाना क्षेत्र के मोहल्ला सराय हिसामुद्दीन निवासी सगीर पुत्र बुंदू की 16 अक्टूबर को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। सगीर का कसूर यह था कि वह गैर कश्मीरी था। सगीर को चार बेटी और एक बेटा है। एक बेटी की अभी शादी नहीं हुई है। गुरुवार सुबह सगीर का बेटा जहांगीर कुछ पार्षद और सांसद फजलुर्रहमान को लेकर डीएम ऑफिस में पहुंचा और डीएम से गुहार लगाई कि सरकार से उनके परिवार को मुआवजा दिलवाया जाए। जहांगीर का कहना है कि उसके परिवार में अब कमाने वाला कोई नहीं है।

वहीं जहांगीर ने मोदी सरकार को धन्यवाद भी दिया। गौरतलब है कि बुधवार को सेना ने सोफिया मुठभेड़ में सगीर की हत्या करने वाले आतंकवादी आदिल अहमद वानी को मुठभेड़ में मार गिराया था। जैसे ही यह खबर सगीर के परिवार को लगी तो उन्हें सुकून मिला। जिसके बाद जहांगीर और उसके परिवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शुक्रिया किया और पूरा भरोसा जताया।

Edited By: Taruna Tayal