मेरठ, जेएनएन। प्रहलाद नगर से लोगों के पलायन की खबरों के बीच रविवार को साध्वी प्राची यहां पर पहुंचीं और कहा कि प्रहलाद नगर से 36 सौ परिवारों का पलायन हुआ है। इस कॉलोनी में कुल चार हजार परिवार थे, इनमें से आज मात्र चार सौ परिवार ही बचे हैं। इस मामले में अफसरों ने झूठी रिपोर्ट दी है। साध्वी के अचानक यहां की सूचना से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया।
सीएम योगी से बात करके  कराएंगी  कार्रवाई
साध्वी प्राची ने कहा कि वे खुद इस मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी से बात करके कार्रवाई कराएंगी। कहा कि प्रहलाद नगर में बहू बेटियों की इज्जत खतरे में है। यहां पर रह रहे हिंदू परिवारों की सुरक्षा के चारों ओर गेट बनने चाहिए। साध्‍वी ने कॉलोनी में कई परिवारों से मिलकर बात की और उनके दर्द को समझने की कोशिश की।

पूरे माहौल की जांच कराएं मुख्यमंत्री
रीड की हड्डी में चोट के बावजूद साध्वी प्राची प्रहलाद नगर की गलियों में पैदल घूमी। साध्वी के पहुंचने की सूचना से पुलिस प्रशासन में खलबली मच गई। कई थानों की पुलिस आनन-फानन में प्रहलाद पहुंच गई। बाद में पत्रकारों से बातचीत में साध्वी बोली कि योगी जी को विशेष टीम बनाकर प्रहलाद नगर के माहौल की जांच करानी चाहिए और उसके बाद कार्रवाई करें। कहा कि बहू बेटियों की इज्जत बचाने के लिए प्रहलाद नगर में कड़े कदम उठाने की जरूरत है। बेटियां सड़कों पर निकलती है तो उनके साथ छेड़छाड़ की जाती है। पलायन के मामले में मेरठ के प्रशासन ने झूठी रिपोर्ट दी है। 

Posted By: Ashu Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस