मेरठ, जागरण संवाददाता। सात दिसंबर को मेरठ में होने वाली परिवर्तन संदेश रैली के लिए समाजवादी पार्टी और राष्‍ट्रीय लोकदल के शीर्ष पदाधिकारियों ने डेरा डाल दिया है। भैंसाली स्थित अजंता पेट्रोल पंप के परिसर में आयोजित प्रेस वार्ता में डा. मसूद अहमद ने पार्टी सुप्रीमो चौधरी जयंत सिंह को मनमोहन सिंह और सुब्रहमण्‍यम स्‍वामी सरीखा अर्थशास्‍ञी बताया। पञकारों के यह पूछने कि पार्टी एक करोड़ नौकरी कैसे देंगी ? सवाल के उत्‍तर पर डा. मसूद अहमद ने कहा कि उनकी नीयत साफ है इ‍सलिए इस दावे को वह हकीकत में जरूर बदलेंगे। 

सीटों की घोषणा सात दिसंबर की रैली में  

पूर्व शिक्षा मंत्री डा. मसूद अहमद ने कहा कि सपा और रालोद में गठबंधन हो गया है। सीटों की बाबत सात दिसंबर की रैली में घोषणा होगी। उन्‍होंने कहा यह पश्चिम उत्‍तर प्रदेश की ऐतिहासिक रैली होगी। सपा और रालोद गठबंधन को भारी बहुमत मिलेगा। प्रदेश अध्‍यक्ष ने कहा कि मोदी और योगी सरकार की नीतियों से जनता पस्‍त हो गई है। कहा चूंकि दिल्‍ली का रास्‍ता लखनऊ से होकर जाता है, इसलिए 2022 के उत्‍तर प्रदेश के चुनावों के बाद देश की सत्‍ता में भी परिवर्तन आएगा। कहा कि प्रश्‍नपत्र लीक प्रकरण में भाजपा विधायक का भाई के नाम सामने आ रहा है। देखना है कि मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ उनके घर पर बुलडोजर कब चलवाते हैं। रालोद लोक संकल्‍प समिति के अध्‍यक्ष डा. यशवीर सिंह ने कहा कि देश के 32 प्रतिशत किसान गरीबी की रेखा से नीचे हैं। वहीं आजादी के समय की तुलना में आज किसानों की आय अन्‍य पेशों की तुलना में चार गुना कम है। उन्‍होंने कहा कि सपा और रालोद की सरकार गरीबों, किसानों, छोटे दुकानदारों के लिए काम करेगी। प्रेसवार्ता में रालोद के घोषणापत्र 22 बिंदुओं के बारे में जानकारी दी गई।

 

Edited By: Parveen Vashishta