सहारनपुर, सर्वेंद्र पुंडीर। फर्जी कंपनियां बनाकर चीनी मिलें खरीदने के बाद सुर्खियों में आए वांछित पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल 50 हजारी होने जा रहे हैं। अभी उन पर 25 हजार का इनाम है। एसएसपी विपिन ताडा ने बताया कि हाजी इकबाल पर 50 हजार के इनाम की संस्तुति करके फाइल डीआइजी को भेजी है। अब डीआइजी की मोहर लगानी है। एसएसपी ने बताया कि हाजी इकबाल की तलाश में पुलिस और अन्य एजेंसियां लगी हैं। आशंका जताई जा रही है कि वह भारत छोड़ कर दुबई या फिर अन्य देश में भाग गया है।

हाजी इकबाल और उसके परिवार पर हुई कार्रवाई

- 13 मई 2022 को बेहट पुलिस और सर्विलांस टीम ने दिल्ली के लाजपत नगर से हाजी इकबाल के बेटे आलीशान को गिरफ्तार किया।

- 26 मई 2022 को बेहट और एसओजी ने हाजी इकबाल के दूसरे बेटे जावेद को गिरफ्तार किया।

- पांच जून 2022 को मिर्जापुर और एसओजी ने हाजी इकबाल के तीसरे बेटे अफजल को गिरफ्तार किया।

- चार जुलाई को जिला प्रशासन ने हाजी और उनके भाई महमूद अली की न्यू भगत सिंह कालोनी स्थित तीन कोठियों पर बुलडोजर चलाया।

- मई में जिला प्रशासन ने हाजी इकबाल की 1500 बीघा जमीन जब्त की।

- 12 जुलाई को पुलिस ने हाजी इकबाल के गुर्गें सनी नागपाल की जमीनों और फार्म हाउस पर बुजडोजर चलाया।

- 17 जुलाई को हाजी के भाई पूर्व एमएलसी महमूद अली को नवी मुंबई के नैरुल में एक किराये के फ्लैट से गिरफ्तार किया।

हाजी इकबाल के चर्चित मामले

- दो नवंबर 2017 को तहसील बेहट के हल्का लेखपाल पंकज ने हाजी इकबाल, भाई महमूद अली पर सरकारी जमीन कब्जाने का मुकदमा दर्ज कराया।

- पांच अप्रैल 2017 को सहसपुर (उत्तराखंड) के मोहम्मद राशिद के 49 लाख 88 हजार रुपये की रंगदारी मांगने, जान से मारने की धमकी देने व धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया।

- 14 मार्च 2018 को फतेहपुर टांडा के पाल्ला ने सात बीघा जमीन कब्जाने का मुकदमा दर्ज कराया।

- पांच अप्रैल 2018 में हरिद्वार जिले (उत्तराखंड) के रानीपुर के राकेश अरोड़ा की 44 बीघा जमीन जो यूनिवर्सिटी से लगी है उसे कब्जाने का मुकदमा दर्ज कराया।

- 23 जुलाई 2018 को हाजी इकबाल और उसके गैंग के सदस्यों पर गैंगस्टर की कार्रवाई हुई।

- छह जुलाई 2019 को हाजी इकबाल और उसके गैंग पर गुरुग्राम (हरियाणा) के सुनील मनचंदा की पत्नी किरण मनचंदा ने बंधक बनाकर लूटपाट का मुकदमा दर्ज कराया।

- सात जुलाई 2019 को सविता नाम की महिला ने हाजी इकबाल और उसके गैंग पर जमीन कब्जाने का मुकदमा दर्ज कराया।

- 19 सितंबर 2022 को हाजी इकबाल के खिलाफ मिर्जापुर थाने में डकैती का मुकदमा दर्ज हुआ।

ये हैं हाजी इकबाल गैंग के सदस्य

हाजी इकबाल, महमूद अली, इकबाल की पत्नी फरीदा बेगम, इकबाल के बेटे अलीशान और जावेद, वाजिद, पूर्व एसडीएम शीतल प्रसाद आंबेडकर, पूर्व कानूनगो जनेश्वर सिंह, पूर्व लेखपाल बीरबल, जिशान अली, सुरेंद्र कुमार, संजय सिंह, अब्दुल व अखलाक अली हैं। गैंग लीडर हाजी इकबाल, उसकी पत्नी फरीदा, वाजिद, शीतल प्रसाद आंबेडकर, जनेश्वर सिंह फरार हैं। महमूद अली, इकबाल के बेटे आलीशान, अफजल और जावेद, बीरबल, सुरेंद्र कुमार, संजय सिंह, अब्दुल व अखलाक जेल में है।

Edited By: Taruna Tayal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट