मेरठ, जेएनएन : सिटी स्टेशन का रंग और रंगत बदलने लगी है। स्टेशन परिसर का अब लाल से गेरुआ किया जा रहा है। वहीं, ओवर फुटब्रिज पर चंद्रशेखर आजाद, भगत सिंह और स्वामी विवेकानंद के चित्र लगाए गए हैं।

धरती-पानी रखें साफ, वरना आने वाली पीढ़ी नहीं करेगी माफ

फुट ओवरब्रिज की सीढि़यों पर धरती-पानी रखें साफ-वरना आने वाली पीढ़ी नहीं करेगी माफ, कड़ी धूप में जलते पांव-पेड़ होते तो नहीं जलते पांव, पेड़-पौधे एक वरदान-इसलिए करो इनका सम्मान सहित पर्यावरण से संबंधित काफी संख्या में उद्यरण लिखे गए हैं।

चार साल में इतना बदला स्टेशन

सिटी स्टेशन को एस्केलेटर, लिफ्ट, मेटाकलर शीट, पिंक-ब्लू टॉयलेट, वाटर कूलर-वाटर एटीएम, सीसीटीवी कैमरे और कंट्रोल रूम, रेन-वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम, एटीवीएम (ऑटोमेटिक टिकट वेंडिंग मशीन), यूटीएस का मोबाइल ऐप, स्टेशन पर एलईडी जैसी सुविधाएं चार वर्षो में मिली हैं। इसके साथ ही 149 साल में मुजफ्फरनगर तक ट्रैक का दोहरीकरण, लाइन पर विद्युतीकरण हुआ है। इलाहाबाद-उधमपुर और देहरादून-नई दिल्ली एक्सप्रेस को कोटा तक विस्तार दिया गया है।

और क्या चाहिए

अभी तक ट्रैक का दोहरीकरण नहीं होने का हवाला देते हुए रेलवे देश की राजधानी दिल्ली से देहरादून तक 'राजधानी एक्सप्रेस' को नहीं चला पाया है। ट्रैक दोहरा होने से राजधानी एक्सप्रेस की मांग बढ़ गई है। इसके साथ ही स्वच्छता, यात्री सुरक्षा, ट्रैक को पार करने की आवाजाही आदि रुकनी चाहिए। मेरठ से पटना और बनारस जैसे शहरों के लिए सीधी रेल सुविधा की मांग वर्षो से कई संगठन कर रहे हैं। साथ ही मेरठ-पानीपत रेल लाइन प्रस्तावित होने के बाद भी कार्य न होने से लोगों में रोष है। मेरठ-हस्तिनापुर-बिजनौर रेल मार्ग की मांग आजादी के बाद से बस मांग ही रह गई है।

यात्रियों की सुविधा-सुरक्षा रेलवे का प्रयास : अधीक्षक

सिटी स्टेशन अधीक्षक आरपी शर्मा ने कहा कि स्टेशनों पर सुविधा देशभर में बढ़ रही हैं। इसी के तहत मेरठ में भी कार्य हुए हैं। स्वच्छता और सुरक्षा पर और कार्य किया जाएगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप