मेरठ,जेनएएन ग्रेटर नोएडा निवासी रि. ब्रिगेडियर देवराज सिंह ने जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष मनिंदरपाल सिंह पर धोखाधड़ी के आरोप लगाए हैं। रि. ब्रिगेडियर ने रिपोर्ट दर्ज होने के बावजूद पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया। उधर, मनिंदरपाल ने आरोपों को खारिज किया है।

मूल रूप से बुलंदशहर निवासी रि. ब्रिगेडियर देवराज सिंह ने शनिवार को शहर के एक होटल में प्रेसवार्ता की। रि. ब्रिगेडियर ने आरोप लगाया कि मनिंदरपाल सिंह ने उनके साथ मिलकर एक कंपनी बनाई थी। इसमें दोनों 50-50 प्रतिशत के साझेदार थे। उन्होंने कंपनी में 46 लाख से अधिक रुपये लगाए। कंपनी ने प्रापर्टी संबंधित कार्य किए, लेकिन मनिंदरपाल ने उनका हिस्सा नहीं दिया। प्रकरण को लेकर वह कोर्ट भी गए और मनिंदरपाल की पत्नी सहित कई पर कोर्ट के आदेश पर 13 अगस्त को पल्लवपुरम थाने में मुकदमा दर्ज किया गया। हालांकि पुलिस प्रकरण में कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। रि. ब्रिगेडियर ने यह भी कहा कि उन्होंने 2019 के स्टांप पेपर पर 2013 में हुआ एक समझौता दिखाया है, जो अपने आप में बड़ा फर्जीवाड़ा है। उधर, जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन मनिंदरपाल सिंह ने इस संबंध में कहा कि सभी आरोप निराधार हैं। रि. ब्रिगेडियर का अपने साले प्रमोद से विवाद चल रहा है। कहा कि राजनीतिक कारणों से आरोप लगाए जा रहे हैं। जिस कंपनी को लेकर आरोप लगाए जा रहे हैं, वह कंपनी काफी पहले बंद हो गई और हिसाब भी हो चुका है। प्रकरण कोर्ट में होने के बाद भी इस तरह से प्रेसवार्ता करना समझ से बाहर है।

Edited By: Jagran