बागपत, जागरण संवाददाता। Pollution News बागपत में अब प्रदूषण नियंत्रण में होता नजर आ रहा है। यहां के एक्यूआइ में गिरावट आई है। जहां पहले एक्यूआइ 400 के पार था, अब रेड जोन से येलो जोन में बागपत आ गया है। बुधवार को एक्यूआइ 136 रहा। इससे लोगों को काफी राहत मिल रही है। हालांकि वायु प्रदूषण को रोकने के लिए बागपत हाइवे के निर्माण धीमा हो गया है।

पहले से काफी राहत

जिले के बाशिंदों के लिए वायु प्रदूषण से राहत मिलने लगी है। चार नवंबर के बाद पहली बार सात दिसंबर वायु प्रदूषण की मार से काफी राहत मिली। सात दिसंबर को एयर क्वालिटी इंडेक्स 174 रहा, वरना एक माह से कभी 270 से नीचे नहीं गया। बुधवार को एक्यूआइ 136 पहुंच गया। वहीं पिछले दिनों बागपत का एक्यूआई 400 के पार रहा था। अब हवा की गुणवत्ता में सुधार हुआ है। वहीं दिनभर धूप निकलने से लोगों को ठंड से भी कुछ राहत मिली। सुबह टहलने के दौरान बरते सावधानी चिकित्सक डा. विभाष राजपूत बताते है कि वायु प्रदूषण में सुधार हो रहा है। वहीं न्यूनतम तापमान दस डिग्री सेल्सियस तक पहुंच रहा है। इसलिए सुबह टहलने के दौरान गर्म कपड़े जरूर पहनें। सिर पर टोपी लगाने से ठंड लगने का खतरा कम हो जाता है। साथ ही पौष्टिक आहार का सेवन करें। धूप खिल रही है। इसलिए धूप में जरूर बैठे।

जिला अस्पताल में लग रही भीड़

बढ़ती ठंड के दौरान बुखार, खांसी व जुकाम के मरीज जिला अस्पताल पहुंच रहे हैं। जिला अस्पताल में प्रतिदिन एक हजार से अधिक मरीज पहुंच रहे है। इनमें अधिकांश मरीज खांसी व जुकाम के है। ठंड बढ़ने से सांस के रोगी भी बढ़ रहे है। चिकित्सक डा.दीपक कहते है कि ठंड में सांस के मरीजों को ज्यादा दिक्कत होती है। इस कारण सांस के रोगी ज्यादा ध्यान रखें। गुनगुने पानी का सेवन करें। साथ ही बाहर निकलते समय गर्म कपड़े जरूर पहनें। ठंडे खाद्य पदार्थों का सेवन न करें।

Edited By: Prem Dutt Bhatt