मेरठ, जेएनएन। मेरठ में कोरोना संक्रमण के दौर में रैपिड रेल प्रोजेक्ट के अंतर्गत शहर में तीन भूमिगत स्टेशनों का निर्माण एक महीने के भीतर शुरू हो जाएगा। इंजीनियरों की टीम इसके लिए वर्क प्लान और डिजाइन तैयार करने में जुटी है। रैपिड के भूमिगत स्टेशन भैंसाली से निर्माण की शुरुआत होगी। एनसीआरटीसी के अधिकारियों ने ऐसी उम्मीद जताई है।

शहर के अंदर दिल्ली रोड पर रैपिड रेल के तीन भूमिगत स्टेशन मेरठ सेंट्रल ( फुटबाल चौराहे के पास), भैंसाली बस अड्डे के पास भैंसाली भूमिगत स्टेशन के नाम से और बेगमपुल के पास इसी नाम से भूमिगत स्टेशन बनना है। भैंसाली बस अड्डे और बेगमपुल के पास बैरीकेंडिग कर जमीन की खोदाई का काम पहले ही शुरू हो चुका है। अब फुटबाल चौराहे पर मेरठ सेंट्रल स्टेशन के निर्माण के लिए जमीन की खोदाई की जाएगी। इसके लिए फुटबाल चौराहे पर बैरीकेंडिग कर दी गई है।

जमीन की खोदाई का काम कट एंड कवर विधि से किया जाएगा। अर्थात स्टेशन वाली जगह को पूरी तरह खोद कर डी वाल तैयार की जाएगी। इस पर छत डाली जाएगी। छत के ऊपर फिर सड़क व डिवाइडर पूर्व की तरह बना दिए जाएंगे। छत डालने के बाद नीचे जो बाक्स नुमा स्ट्रक्चर भूमिगत तैयार होगा। उसमें स्टेशन का निर्माण किया जाएगा। एनसीआरटीसी के अधिकारियों के अनुसार डी वाल निर्माण का काम सबसे पहले भैंसाली भूमिगत स्टेशन पर शुरू होगा। जो संभवत: एक सप्ताह के अंदर चालू हो जाएगा। इसके आठ से दस दिन बाद बेगमपुल भूमिगत स्टेशन पर और इतने ही दिनों के अंतराल में मेरठ सेंट्रल भूमिगत स्टेशन अर्थात फुटबाल चौराहे के पास डी वाल का काम शुरू होगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप