मेरठ: कंकरखेड़ा थानाक्षेत्र के हाईवे पर स्थित एक रेस्टोरेंट पर परतापुर थाने की मोहिउद्दीनपुर चौकी इंचार्ज और उसकी महिला वकील मित्र ने खाना खाने को लेकर हंगामा खड़ा कर दिया। महिला ने शराब के नशे में दारोगा की पिस्टल निकाल ली और रेस्टोरेंट के मालिक पर तान दी। वहां पहुंची पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया और कंकरखेड़ा थाने ले आई।

मोहिउद्दीनपुर चौकी इंचार्ज सुखपाल सिंह पंवार शुक्रवार रात करीब साढ़े नौ बजे अपनी वकील महिला मित्र के साथ भाजपा के वार्ड 40 के पार्षद मनीष चौधरी के ब्लैक पेपर रेस्टोरेंट पर खाना खाने के लिए गए थे। मनीष चौधरी ने बताया कि खाना देने में उसके कर्मचारियों को थोड़ी देर हो गई। जिसके बाद दारोगा की महिला मित्र ने कर्मचारियों के साथ गाली गलौज शुरू कर दी। कर्मचारियों ने विरोध किया तो महिला ने अपने दारोगा दोस्त की पिस्टल छीन ली और कर्मचारियों पर तान दी। सूचना पर पहुंचे रेस्टोरेंट के मालिक मनीष चौधरी ने जब महिला को समझाने का प्रयास किया तो उस पर भी पिस्टल तान दी। दारोगा ने भी कर्मचारियों और मालिक के साथ गाली गलौज की। सूचना पर सीओ दौराला पंकज सिंह फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और दोनों को कंकरखेड़ा थाने ले आए। यहां मनीष चौधरी के पक्ष में भाजपाई आ गए और हंगामा करने लगे। सीओ ने उन्हें समझाकर शांत किया। मामले में देर रात तक लिखापढ़ी नहीं हुई थी।

चलती कार में हाईवे पर पी शराब

कंकरखेड़ा थाना पुलिस की जांच में सामने आया है कि दारोगा और उसकी महिला वकील मित्र ने चलती कार में शराब पी और इसके बाद वह रेस्टोरेंट पर पहुंचे।

महिला का चल रहा है दहेज एक्ट का मुकदमा

महिला तेज विहार कंकरखेड़ा की रहने वाली है। उसकी शादी राजनगर एक्सटेंशन गाजियाबाद निवासी एक युवक से हुई थी। उसका अपने पति और ससुरालियों से दहेज एक्ट का मुकदमा चल रहा है। जिसकी विवेचना दारोगा सुखपाल सिंह पंवार ही कर रहे हैं।

इन्होंने कहा ..

महिला और दारोगा ने रेस्टोरेंट पर हंगामा किया है। दोनों को हिरासत में लेकर मेडिकल के लिए भेजा गया है। दोनों शराब के नशे में थे। जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

पंकज सिंह, सीओ दौराला

Posted By: Jagran