बागपत, जागरण संवाददाता। Gurmeet Ram Rahim बागपत के बिनौली में बरनावा के डेरा सच्चा सौदा आश्रम में रविवार को सुबह कई प्रांतों से सैंकड़ो गाड़ियों में हजारों अनुयायी पहुंच गए। इस दौरान बडौत मेरठ मार्ग पर भी जाम की स्थिति रही। रोहतक की सुनारिया जेल से पैरोल पर डेरा प्रमुख राम रहीम गुरमीत सिंह बरनावा के शाह सतनाम सिंह आश्रम में ठहरे हैं। इस दौरान उनके अनुयायी भी लगातार उनसे मिलने आ रहे हैं।

अनुयायियों की भीड़ को रोकने की सख्त हिदायत

हालांकि डेरा प्रबंधन लगातार सोशल मीडिया के माध्यम से अनुयायियों से न आने की अपील कर रहा है। पुलिस प्रशासन ने भी डेरा प्रबंधन को अनुयायियों की भीड़ को रोकने की सख्त हिदायत दे रखी है। लेकिन इसके बावजूद लोग पहुंच रहे हैं। देर रात से फिर हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली आदि कई प्रांतों से गाड़ियों का काफिला आश्रम पहुंचना शुरू हो गया। यह सिलसिला सुबह तक चलता रहा। इस दौरान गाड़ियां डेरा परिसर के अंदर ही पार्क कराई गई।

बडौत मार्ग पर रही जाम की स्थिति

बरनावा आश्रम में गाड़ियों की भीड़ आने से बडौत मेरठ मार्ग पर जाम की स्थिति बनी रही। इस दौरान डेरा सेवादारों ने व्यवस्था को सुचारू रखा।

इनका कहना है

डेरा आश्रम परिसर में कुछ श्रद्धालुओं के पहुंचने की जानकारी है। लेकिन आश्रम के बाहर कोई अव्‍यवस्‍था नहीं है।

- डीके त्यागी, इंस्पेक्टर, बिनौली

नामचर्चा के चलते उमड़ी अनुयायियों की भीड़

बिनौली : बरनावा के डेरा सच्चा सौदा आश्रम में रविवार को साप्ताहिक नामचर्चा होती है। जिसके कारण हजारों की संख्या में अनुयायी यहां पहुंचे हैं। डेरा सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली, पंजाब आदि प्रांतों से आने वाले अनुयायियों से डेरा प्रमुख अलग अलग समय व क्रम के अनुसार दर्शन देंगें। आने वाले वाहनों को डेरा परिसर के अंदर पार्क किया जा रहा है। एक गेट से वाहनों का अंदर प्रवेश कराया जा रहा है। जबकि दूसरे गेट से अनुयायियीं को बाहर भेजा जा रहा है। आश्रम के बाहर सुबह के बाद बडौत मेरठ मार्ग पर वाहनों का आवागमन सुचारू चल रहा है। देर शाम डेरा प्रमुख के अनुयायियों को लाइव संदेश देने की भी संभावना है।

पहले नहीं मिल पाया था प्रवेश

बरनावा के डेरा सच्चा सौदा आश्रम में शनिवार को भी डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह से मिलने बड़ी संख्या में समर्थक पहुंचे, लेकिन उन्हें परिसर में प्रवेश नहीं मिल पाया। शनिवार को समर्थकों का पहुंचना जारी रहा, लेकिन सुरक्षा व अन्य कारणों के चलते समर्थकों को परिसर में प्रवेश नहीं मिला। परिसर के सभी द्वार बंद रखे गए थे। केवल एक गेट से उन्हीं सेवादारों को प्रवेश दिया गया, जिनकी अलग-अलग क्षेत्रों में सेवा नियत की गई थी। उधर पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने भी डेरे की गतिविधियों पर नजर बनाए रखी। आश्रम के प्रांतीय कमेटी के जिम्मेदार विभिन्न माध्यमों से श्रद्धालुओं को फिलहाल यहां न आने की अपील कर रहे हैं।

Edited By: Prem Dutt Bhatt